Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कुएं में गिरे पशु को बचाने के प्रयास में तीन युवकों ने गंवा दीं जान, पूरे गांव में पसरा मातम

बिहार के गया जिले से एक बड़ी ही दर्दनाक घटना सामने आई है। क्योंकि यहां पर एक पुश को बचाने के प्रयास में तीन युवकों ने अपनी जान गंवा दी है। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने पीड़ित परिजनों को मदद का भरोसा दिया है।

gaya tragic accident in bodh gaya 3 youths lost their lives to save an animal fell in well bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के गया (Gaya) जिले में ऐसी घटना घट गई है। जिसको सुनकर हर कोई चौंक (shocked) रहा है। क्योंकि यहां पर एक पुश को बचाने की कोशिश में तीन युवकों को अपनी जान गंवानी पड़ गई (Three youths lost their lives) है। यह दर्दनाक हादसा बुधवार को बोधगया (Bodhgaya) प्रखंड की गाफा पंचायत स्थित जानी बीघा गांव में घटा। यहीं पर एक कुएं में गिरे एक पशु को बचाने के प्रयास (animal rescue efforts) में 3 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ गई। जानकारी के अनुसार यहां पर एक सुअर (पशु) कुएं में गिर गया था। उसी को बचाने के लिए पहले एक युवक कुएं में कूद गया। लेकिन यह युवक नहीं निकल सका तो दूसरे युवक ने भी कुंए में छलांग लगा दी। जब काफी देर तक दोनों ही युवक कुंए में दिखाई नहीं दिए तो तीसरे युवक ने भी कुएं में छलांग लगा दी। इस तरह एक-एक कर तीनों युवकों की कुंए में दम घुटकर मौके पर ही मौत हो गई।

मृतक युवकों की पहचान वीरेंद्र मांझी 35 साल, जितेंद्र मांझी 22 साल व रविंद्र मांझी 23 साल के रूप में की गई है। ये तीनों युवक जानी बिगहा के निवासी थे। इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद से ही पूरे क्षेत्र में सनाटा पसरा हुआ है। तीनों मृतकों के परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है। बताया जा रहा है हादसे में जान गंवाने वाले बीरेंद्र मांझी के 5 छोटे-छोटे बच्चे हैं। इनमें 3 बेटी और 2 बेटा शामिल हैं।

जब स्थानीय लोगों को पता चला कि 3 युवकों की एक पशु को बचाने के प्रयास में कुएं में कूदने से जान चली गई है। फिर पूरे मामले की जानकारी बोधगया थाने को दी गई। सूचना के तुरंत बाद बोधगया थाने के एएसआई नवल किशोर मंडल अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे व स्थिति को नियंत्रण में किया।

घटनास्थल पर अंचलाधिकारी कमलनयन कश्यप भी पहुंचे। जिन्होंने आपदा प्रबंधन के तहत चार चार लाख रुपये मृतक के परिजनों को देने की बात कही है। साथ ही कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत 3-3 हजार रुपये तुरंत परिजनों को सौंपे गए हैं। वहीं पुलिस ने तीनों शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज गया भेज दिया है।

Next Story