Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाई के दोस्त समेत 4 बदमाशों ने नाबालिग के साथ रातभर किया गैंगरेप, होश में आने पर पीड़िता ने सुनाई आपबीती

बिहार के मधुबनी जिले से हैवानियत की वारदात सामने आई है। यहां अपहरण किए जाने के बाद एक नाबालिग लड़की के साथ चार युवकों द्वारा गैंगरेप किए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने पूरे मामले में जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

Four youths gang raped minor girl by kidnapping in Madhubani bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में महिलाओं और नाबालिग लड़कियों के खिलाफ आपराधिक वारदातें कम होने का नाम नहीं ले रही है। ताजा शर्मनाक वारदात मधुबनी (Madhubani) जिले से सामने आई है। यहां अपहरण (kidnapping) करने के बाद 16 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म (gang rape) किया गया है। पीड़ित लड़की शिकायत पर गांव निवासी चार लड़कों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस (Police) ने पूरे मामले में तफ्तीश शुरू कर दी है। नाबालिग लड़की पूरी रात अपने घर से लापता रही थी। नाबालिग लड़की परिजनों को सुबह में अपने घर के पास बेहोशी की अवस्था में मिली थी। होश में आने पर पीड़ित लड़की ने खुद साथ हुई दरिंगदी की पूरी घटना परिजनों को बता दी। तुरंत परिजन पीड़िता को लेकर थाने पहुंचे और मामला दर्ज करा दिया गया।

यह सामूहिक दुष्कर्म की वारदात मधुबनी जिले के झंझारपुर थाना इलाके की बताई जा रही है। पीड़ित परिजनों का कहना है कि 13 अगस्त की रात में उनकी 16 साल की बेटी घर के पास ही हैंडपंप पर बर्तन साफ करने के लिए गई थी। जहां चार युवक पहले से घात लगाकर बैठे थे। उन्होंने बेटी का वहां से जबरन अपहरण कर लिया। बाद में नशीला इंजेक्शन लगाकर लड़की को बेहोश कर दिया। लड़की रात भर अपने घर नहीं पहुंच सकी। अगले दिन सुबह में लड़की बेहोशी की स्थिति में घर के पास मिली। परिजन लड़की को झंझारपुर अनुमंडल अस्पताल लेकर पहुंचे।

होश में आने पर यहीं पीड़िता ने खुद पर बीती पूरी दर्दनाक दांस्ता बयां की। पीड़िता के पिता की शिकायत पर 16 अगस्त को झंझारपुर थाने में 4 युवकों के खिलाफ नाबालिग लड़की को अगवा करने व उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप में नामजद मामला दर्ज कर लिया गया है। शिकायत में गांव निवासी 25 वर्षीय सुशील भंडारी, 25 वर्षीय सुनील भंडारी, 26 साल के प्रदीप कुमार कामत व 21 साल के सुरेंद्र कुमार भंडारी को आरोपी बनाया गया है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है। पुलिस आरोपियों को दबोचने के लिए छापेमारी भी कर रही है। चार आरोपियों में से आरोपी सुशील भंडारी को पीड़ित नाबालिग लड़की के भाई का दोस्त बताया जा रहा है। यहा भी सामने आया है कि सुशील भंडारी इसी लड़की को बीते अप्रैल महीने में अपने साथ कहीं ले गया था। जहां वह उसे किसी होटल में छोड़कर भाग गया था। इस मामले पर गांव में पंचायत भी बैठी थी।

मामले पर झंझारपुर के एसडीपीओ आशीष आनंद ने बताया कि नाबालिग पीड़िता को न्याय जरूर मिलेगा। अभी पुलिस को मेडिकल जांच रिपोर्ट का इंतजार है। वैसे पुलिस मामले से जुड़े हर पहलू की गहनता से जांच-पड़ताल कर रही है।

Next Story