Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या सीएम नीतीश कुमार ने कोरोना के संबंध में प्रधानमंत्री मोदी को सही जानकारी नहीं दी!

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना के संबंध में सीएम नीतीश कुमार ने सही जानकारी नहीं दी है! क्योंकि सीएम नीतीश कुमार द्वारा दी गई जानकारी, बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय के कोरोना संबंधी आंकड़ों से मेल नहीं खा रही हैं। इसलिये सवाल उठता है कि कौन झूठा और कौना सच्चा है?

did not cm nitish kumar give correct information to prime minister modi regarding corona
X
राजद नेता तेजस्वी यादव ने जड़े आरोप

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं राजद नेता तेजस्वी यादव कोरोना वायरस को लेकर नीतीश सरकार को लगातार घेर रहे हैं। इस बार राजद नेता ने ट्वीट कर सूबे में कोरोना महामारी की जांच को लेकर प्रयोग में लाई जा रही विधियों के आंकड़ों में फेर बदल करने का आरोप लगाया है। तेजस्वी यादव ने मामले पर तर्क देते हुये कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने 11 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ समीक्षा बैठक में बताया कि बिहार में प्रतिदिन 10 प्रतिशत से भी कम आरटी-पीसीआर जांच हो रही है।

लेकिन इसके उलट बीते दिनों बिहार विधानसभा में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने बताया था कि सूबे में कुल कोरोना जांच में से 52.9 प्रतिशत आरटी-पीसीआर, 17.9 फीसदी टरुनेट और 29 प्रतिशत एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं। इसको लेकर तेजस्वी यादव ने कहा कि मालूम नहीं कि कौन झूठा है और कौन सच्चा है।



कोरोना संबंधी जांच में झोल-झाल हो रहा है: तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में जब 10 हजार जांच हो रही थी तो 3000-3500 कोरोना मरीज मिल रहे थे। लेकिन अब 75 हजार जांच हो रही तब भी लगभग 3500-4000 संक्रमित मरीज ही मिल रहे है। इसका सीधा मतलब है कोरोना संबंधी जांच में झोल-झाल हो रहा है। आंकड़ों की हेरा फेरी हो रही है।

नीतीश जी अपनी जगहसाई से बचने के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट की संख्या बढ़ा रहे हैं। वहीं उन्होंने कहा कि बिहार की नाकाम सरकार को छोड़ लगभग अधिकांश राज्यों ने आरटी-पीसीआर जांच का दायरा बढ़ाने का काम किया है। तमिलनाडु में सभी टेस्ट आरटी-पीसीआर द्वारा हुए है व रोजाना औसतन 67000 जांच किये जा रहे हैं। उसी प्रकार आंध्र प्रदेश में 27000, गुजरात में 20000 प्रतिदिन आरटी-पीसीआर जांच हो रही हैं।



बिहार में काफी कम है कोविड-19 मृत्यु दर: संजय कुमार झा

बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने कहा कि कोरोना के प्रसार के बीच राहत की खबर आई है। उन्होंने बताया कि भारत सबसे कम कोविड-19 मृत्यु दर वाले देशों में शामिल है। झा ने कहा कि वहीं बिहार में यह राष्ट्रीय औसत 1.98 प्रतिशत से भी काफी कम, 0.48 फीसदी है। निश्चित रूप से यह सरकार के सुनियोजित प्रयासों व जन जागरूकता का सम्मिलित सुपरिणाम है।



कोरोना पर नजर बयाये हुए हैं सीएम नीतीश कुमार: जदयू

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और तमाम मुद्दों पर चर्चा हुई। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि कोरोना संकट पर जोर देते हुए राज्य सरकार ने अब हर दिन एक लाख लोगों की कोरोना संबंधी टेस्टिंग करने का लक्ष्य तय किया है। जिसके लिए केंद्र से मदद की मांग की गई है। सीएम नीतीश कुमार लगातार कोरोना वायरस पर अपनी नज़र बनाये हुए हैं।




Next Story