Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डीएम का निर्णय: बिहार के विभिन्न जिलों में मुहर्रम के त्योहार पर ताजिया निकाले जाने पर रहेगा पूर्ण प्रतिबंध

बिहार में इस बार गणेश चतुर्थी और मुहर्रम के त्योहार पर कोरोना वायरस को देखते हुये झांकी एवं ताजिया निकालने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। जहानाबाद, मुजफ्फरपुर व दरभंगा समेत विभिन्न जिलों के डीएम ने अपने-अपने जिलों में शांतिपूर्ण माहौल संपन्न कराने के लिये यह नियर्ण लिया है। साथ ही लोगों से घरों मे त्योहार मनाये जाने की अपील की गई है।

decision of dm there will be a complete ban on the removal of tajia on the festival of muharram in various districts of bihar
X
मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी ने त्योहारों को लेकर की बैठक।

मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को आगामी गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम पर्व को लेकर जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए सार्वजनिक स्थलों पर प्रतिमा स्थापित नहीं किये जाने का निर्णय लिया गया है। साथ ही कहा गया कि गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम पर्व पर जिले में झांकी और ताजिया निकालने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।



जहानाबाद के डीएम ने लोगों से घरों में शांतिपूर्ण त्योहार मनाये जाने की अपील की

जहानाबाद के डीएम ने बताया कि जिला पदाधिकारी ने भी मंगलवार को जिले में मुहर्रम त्योहार को शांतिपूर्ण एवं सद्भाव के माहौल में संपन्न कराने हेतु जिला शांति समिति की बैठक आयोजित की। जिसमें जिला पदाधिकारी ने जिले वासियों से अपील करते हुए कहा कि मुहर्रम का त्योहार आप सभी लोग शांतिपूर्ण और उल्लास के वातावरण में मनाएं।



मुहर्रम पर कोई भी जुलूस नहीं निकाला जायेगा: दरभंगा डीएम

दरभंगा के जिलाधिकारी की अध्यक्षता में भी मंगलवार को जिले के सभी अधिकारियों के साथ मुहर्रम को लेकर जिला शांति समिति की बैठक हुई। वहीं बैठक में कोविड-19 संक्रमण को देखते हुये इस वर्ष मुहर्रम के अवसर पर कहीं भी सार्वजनिक स्थल पर अलम, ताजिया, सिपर या अखाड़े का कोई जुलूस नहीं निकालने का निर्णय लिया गया है।



शिया एवं सुन्नी वक्फ बोर्ड की अपील का पालन करें लोग: सारण डीएम

मुहर्रम पर्व मनाये जाने को लेकर सारण के जिलाधिकारी ने मंगलवार को विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक की। जिसमें जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा जारी निर्देश तथा शिया एवं सुन्नी वक्फ बोर्ड की अपील का लोग अनुपालन करें। उन्होंने लोगों से घरों में ही पर्व मनाये जाने की अपील की है।




Next Story