Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बेटी से छेड़छाड़ का विरोध करना मां को पड़ा भारी, बदले में मिली मौत

बिहार की राजधानी पटना में बदमाशों ने दुसाहसिक वारदात को अंजाम दिया है। मामला फतुहा थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। जहां बदमाशों ने बेटी से छेड़छाड़ का विरोध करने पर मां को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया है।

यौन संबंध न बनाने पर पत्थर से कुचलकर दोस्त की हत्या, गिरफ्तार
X
हत्या (प्रतीकात्मक फोटो)

बिहार (Bihar) में इस समय बदमाश पूरी तरह से बेखौफ हो गए हैं। अपराधी बिहार पुलिस (Bihar police) को धत्ता साबित कर कहीं भी खुलकर क्राइम को अंजाम दे रहे हैं। ताजा मामला राजधानी पटना (Patna) के फतुहा थाना क्षेत्र (Fatuha police station area) का बताया जा रहा है। जहां बेटी से छेड़छाड़ (Daughter molestation) की हरकत का विरोध करने पर बदमाशों ने महिला का मर्डर (Murder) कर दिया है। सूचना के बाद वारदात स्थल पर फतुहा थाना पुलिस पहुंची। जहां से पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने इस मामले में तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया है। साथ ही पुलिस इन संदिग्ध आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

मृतक महिला की पहचान फतुहा थाना क्षेत्र के जग्गू बिगहा की रहने वाली आशा देवी पत्नी ललन यादव के तौर पर की गई है। जानकारी के अनुसार ललन यादव की नाबालिग बेटी से दो दिन पूर्व गांव निवासी चंदन कुमार ने छेड़छाड़ की थी। इस छेड़खानी की वारदात को लेकर दोनों परिवारों के बीच विवाद हुआ था। बताया जा रहा है कि किशोरी से छेड़छाड़ करने वाला पीड़ित परिवार का पड़ोसी है।

इस छेड़छाड़ की वारदात को लेकर मंगलवार की रात को भी दोनों परिवारों के बीच तनातनी का माहौल उत्पन्न हो गया था। वहीं बुधवार की सुबह को बदमाशों ने लल्लन यादव के घर के ऊपर चढ़कर फॉयरिंग करना शुरू कर दिया। जिसमें से एक गोली किशोरी की मां और लल्लन यादव की पत्नी आशा देवी को जा लगी। जिसके बाद मौके पर ही महिला आशा देवी ने दम तोड़ दिया।

फतुहा थाना पुलिस ने वारदात स्थल से कारतूस के तीन खोखा भी बरामद किए हैं। हत्या मामले में तीन संदिग्ध लोगों को हिरासत में भी लिया है। दूसरी ओर इस पूरे मामले का मुख्य आरोपी चंदन कुमार पुलिस पकड़ से दूर बताया जा रहा है। मुख्य आरोपी चंदन की दबोचने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।

मृतक महिला के पति लल्लन यादव ने बताया कि पड़ोस में रहने वाले चंदन कुमार पुत्र विनय कुमार ने उनकी बेटी के साथ छेड़खानी की थी। बेटी से हुई छेड़छाड़ का विरोध उन्होंने जताया था। लोकलाज के भय के चलत हमने मामले की शिकायत पुलिस को नहीं दी थी। लेकिन बुधवार को सुबह क्रमिनलों ने उनके घर के ऊपर चढ़कर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं। उनमें से एक गोली उनकी पत्नी आशा देवी को लग गई और उनकी मौत हो गई।

Next Story