Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोनावायरस: पटना में एक ही परिवार के 17 लोगों के कोरोना संक्रमित मिलने से हड़कंप

बिहार में सरकार द्वारा संचालित राज्य स्वास्थ्य समिति के 10 कर्मचारी और पटना के बिहटा क्षेत्र में एक ही परिवार के 17 लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से हड़कंप है। दोनों ही कंटेंनमेंट जोन में सेनेटाइजेशन कराया गया है।

coronavirus stunned after 17 people belonging to same family got corona infected in Patna 10 state health committee employees infected
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में कोरोना वायरस तेजी से खतरनाक होता जा रहा है। कोरोना संक्रमण अब सरकार द्वारा संचालित राज्य स्वास्थ्य समिमि में भी दाखिल हो गया है। जानकारी के अनुसार राज्य स्वास्थ्य समिति के 10 कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पहले राज्य स्वास्थ्य समिति के चार कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए । इसके बाद अन्य कर्मचारियों की भी कोरोना जांच की गई तो 6 अन्य कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित पाए गए। कोरोना संक्रमित पाए जाने वाले कर्मचारियों में वहां के वित्तीय कंसल्टेंट, एकाउंटेंट, गार्ड समेत अन्य कर्मचारी शामिल हैं।

जांच रिपोर्ट मिलने के बाद समिति के कार्यालय में सेनेटाइजेशन का कार्य भी कराया गया। सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के कक्ष को सेनेटाइजेशन के दायरे में लाया गया ताकि अन्य कर्मियों का बचाव किया जा सके।

पटना जिले के बिहटा में किराना व्यवसायी के परिवार के 17 सदस्यों समेत 21 लोग एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जिसके बाद से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है। एहतियात बरतते हुए स्थानीय प्रशासन ने पूरे गांव और बाजार को पांच जगहों पर बैरिकेडिंग कर सील कर दिया है। ग्रामीणों के गांव के बाहर निकलने तथा बाहरी लोगों के गांव में प्रवेश पर फिलहाल रोक लगा दी गई है।

पटना से पहुंची मेडिकल टीम ने बिहटा क्षेत्र को बांस-बल्ला से सील कर दिया और सेनेटाइज भी कराया। वहीं बिहटा पहुंचे अफसरों ने कहा कि सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराया जाएगा। नियम से खिलवाड़ करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पांचों स्थान पर पुलिस व प्रशासन के कर्मी तैनात कर दिए गए हैं। इसके अलावा मुखिया को पूरे क्षेत्र को सेनेटाइज करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम घूम-घूम कर निरीक्षण भी करेगी।

बिहटा के किराना के थोक व्यापारी अनिल कुमार गुप्ता के छोटे भाई राजकुमार गुप्ता की बुधवार को मौत हो गई थी। उन्हें कई बीमारियां थीं। उनके दाह संस्कार में परिजन सहित लगभग 40 लोग शामिल हुए थे। बताया जाता है कि अनिल गुप्ता का बड़ा बेटा सुरेंद्र प्रताप उर्फ पप्पू व्यवसाय के सिलसिले में दिल्ली गया था। उसको कोरोना का संक्रमित पाया गया। वह भी दाह संस्कार में शामिल भी हुआ था। इसके बाद पूरे परिवार समेत 40 लोगों के सैम्पल लिये गए, जिनमें उनके परिवार की महिलाएं समेत 17 लोग पॉजिटिव पाए गए थे।

Next Story