Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार में तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस, कल हालातों का जायजा लेने आ रही केंद्र की टीम

बिहार में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। शुक्रवार को राज्य में रिकॉर्ड 1742 नए संक्रमित मामले सामने आए। अब सूबे में पॉजिटिवों की कुल संख्या 23 हजार को पार कर गई है। इन हालातों के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के नेतृत्व में रविवार को एक उच्च स्तरीय टीम बिहार पहुंचेगी और कोरोना से उत्पन्न स्थिति का जायजा लेगी।

coronavirus spreading rapidly in Bihar Centers team coming to take stock of situation tomorrow
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। शुक्रवार को राज्य में रिकॉर्ड 1742 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। राज्य में अब पॉजिटिवों की कुल संख्या 23 हजार को पार कर गई है। शुक्रवार को जारी हुई स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार में नए कोरोना पॉजिटिव के मामले में यह अबतक की सर्वाधिक संख्या है। इन्हीं हालातों के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के नेतृत्व में रविवार को एक उच्च स्तरीय टीम बिहार आएगी और बिहार में कोरोना से उत्पन्न हालात की जानकारी हासिल करेगी।

उच्च स्तरीय टीम में नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के डायरेक्टर डॉ. एस के सिंह, एम्स मेडिसिन के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज निश्चल शामिल रहेंगे। इसके पूर्व एक अन्य केंद्रीय टीम को बिहार भेजा गया है, जो राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ कोरोना की जांच और इलाज से जुड़ी जानकारी ले रही है। शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बिहार में कोरोना की मौजूदा स्थिति को लेकर स्वास्थ्य सचिव, विशेष कार्य अधिकारी एवं संयुक्त सचिव के साथ अलग-अलग बैठक की। बैठक के उपरांत संयुक्त सचिव के नेतृत्व में टीम भेजने का निर्णय लिया गया, ताकि राज्य के अधिकारियों के साथ मिलकर कोरोना वायरस की मौजूदा स्थिति को लेकर व्यापक कदम उठाया जा सके। बैठक में स्वास्थ्य सचिव प्रीति सुदान, विशेष कार्य अधिकारी राजेश भूषण एवं संयुक्त सचिव लव अग्रवाल मौजूद रहे।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार ने बताया कि केंद्र एवं राज्य सरकार मिलकर कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सभी महत्वपूर्ण कदम उठा रही हैं। मंत्रालय की नजर बिहार के हालातों पर है। यहां के आला अधिकारी लगातार संपर्क में रहते हैं। मौजूदा स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एक टीम बिहार पहुंच चुकी है। दूसरी उच्च स्तरीय टीम का गठन कर दिया गया है, जो रविवार को पहुंचेगी। यह टीम रविवार की सुबह संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के नेतृत्व में पहुंचेगी।

बैठक में बिंदुवार टेस्टिंग, कंटेंटमेंट जोन एवं हॉट स्पॉट पर चर्चा की गई। बिहार में टेस्टिंग को बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा हर संभव मदद उपलब्ध कराने पर भी चर्चा हुई। अश्विनी ने कहा कि केंद्र द्वारा हर संभव मदद बिहार को उपलब्ध कराया जा रहा है। बिहार सरकार काफी गंभीर है व महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं। बिहार के लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। अश्विनी ने लोगों से अपील की कि इस समय में डरे नहीं, बल्कि धैर्य -संयम से केंद्र और राज्य सरकार के दिशानिर्देश का पालन करते रहें।

Next Story