Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Corona Investigation Scam : '0 घोटाले' पर जमुई समेत कई जगहों के स्वास्थ्य अफसर सस्पेंड, कांग्रेस बोली- यह सरकार 'शून्य'

Corona Investigation Scam : कोरोना जांच घोटाले मामले में बिहार सरकार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। सिविल सर्जन व चिकित्सीय पदाधिकारी को शोकॉज दिया है। मामले के संबंध में प्रेस वार्ता कर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने ये जानकारियां दी हैं। वहीं मामले पर कांग्रेस नेता डॉ. मदन मोहन झा समेम अन्य विपक्षी नेता भी सवाल उठा रहे हैं।

Corona investigation scam Jamui with many places Health officers suspended Congress attacked government hindi news
X

कोरोना जांच घोटाला

Corona Investigation Scam : बिहार (Bihar) में कोरोना जांच (Corona Investigation) के नाम पर गड़बड़ी सामने आने के बाद से नीतीश कुमार की सरकार (Nitish Kumar Government) की नींद उड़ी हुई है। साथ ही मामले को लेकर विपक्षी बिहार सरकार (Bihar government) के खिलाफ निशाने साध रहे हैं। कोरोना जांच घोटाले मामले को लेकर स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने शनिवार को प्रेस वार्ता कर नीतीश कुमार सरकार का पक्ष रखा। अमृत ने बताया कि इस मामले में सरकार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए कई अधिकारियों को निलंबित (Suspended) कर दिया है व सिविल सर्जन व चिकित्सीय पदाधिकारी को शोकॉज दिया गया है। इसके अलावा जिन जगहों पर गड़बड़ी हुई है, वहां के स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सम्बंधित अफसरों से स्पष्टीकरण की मांग उठाई गई है।

प्रत्यय अमृत ने बताया कि हमने जमुई के बरहट और सिकंदरा में कोरोना संक्रमण की जांच को लेकर जुटाई गई जानकारी में गंभीर गड़बड़ियां पाई हैं। इन जगहों से जुड़े स्वास्थ्य अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। वहीं उन्होंने कहा कि कई स्थानों पर लोगों के फोन नंबर की जगह पर 10 जीरो दर्ज की गई हैं। हम ऐसे व्यक्तियों का पता लगाने में सक्षम हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जमुई व शेखपुरा जिले में कोरोना जांच में गड़बड़ी सामने आई है। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे (Health Minister Mangal Pandey) ने शुक्रवार को को ही इस मामले को गंभीरता से लिया और जमुई के सिविल सर्जन के साथ-साथ वहां के कई स्वास्थ्य कर्मियों को निलंबित कर दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार जमुई के सिविल सर्जन डॉ. विजयेंद्र सत्यार्थी व जिला कार्यक्रम पदाधिकारी सुधांशु लाल को निलंबित किया गया है। इनके साथ ही प्रतिरक्षण पदाधिकारी पर भी गाज गिरी है। बरहट और सिकंदरा के प्रभारियों को भी सस्पेंड किया गया।

Dr. Madan Mohan Jha ने बिहार सरकार के खिलाफ बोला जोरदार हमला

बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा (Bihar Pradesh Congress President Dr. Madan Mohan Jha) ने भी कोरोना जांच घोटाले को लेकर ट्वीट के माध्यम से बिहार सरकार के खिलाफ जोरदार वार किया है। आपको बता दें बिहार सरकार ने ऐसे अनगिनत लोगों के कोरोना टेस्ट किए हैं, जिनकी उम्र- 0, उनका पता- अज्ञात और उनका मोबाइल नम्बर- 0000000000 है। इस पर डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि यह सरकार ही 'शून्य' है!

Next Story