Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जासूसी प्रकरण के खिलाफ कल कांग्रेस का हल्ला बोल, मदन मोहन झा ने गृह मंत्री को लेकर कही ये बात

जासूसी प्रकरण को लेकर बिहार में भी सियासत गरमा गई है। कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर देश के प्रमुख लोगों की जासूसी करने का आरोप लगाया है। वहीं जासूसी प्रकरण को लेकर बिहार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि इसके खिलाफ में कल पार्टी राजभवन मार्च करेगी।

Congress march against spying case at Raj Bhavan Madan Mohan Jha targeted Home Minister Bihar Political News
X

पटना में प्रेस वार्ता को संबोधित करते बिहार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा।

जासूसी प्रकरण (spy case) को लेकर देश के साथ-साथ बिहार (Bihar) में भी सियासत गर्म हो गई है। इसलिए बिहार कांग्रेस (Bihar Congress) की ओर से कल जासूसी प्रकरण के खिलाफ में राजभवन मार्च की घोषणा की गई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस (Congress) की ओर से अब सीधे तौर पर केंद्र सरकार (central government) के खिलाफ देश के प्रमुख लोगों, विपक्षी पार्टियों के नेताओं, पत्रकारों और अफसरों की जासूसी कराने का आरोप लगाया गया है। मामले पर बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा (Bihar Pradesh Congress President Dr. Madan Mohan Jha) की ओर से कहा गया कि 2017 में पीएम नरेंद मोदी (PM Narendra Modi) इजराइल गए थे। वहीं अब इजराइली सॉफ्टवेयर पेगासस (israeli software pegasus) के माध्यम से ही देश में जासूसी हो रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार देश में कई संस्थानों की जासूसी करवा रही है। कांग्रेस इस जासूसी प्रकरण का पुरजोर विरोध करती है।

मदन मोहन झा ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र सरकार की ओर से पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कई राज्यों की सरकारों को गिराने में किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से देश में विपक्षी दलों के नेताओं को पेगासस सॉफ्टवेयर के जरिए ब्लैकमेल करने का कार्य कर रही है।

मदन मोहन झा ने निशाना साधा कि इस सॉफ्टवेयर के जरिए देश के प्रमुख लोगों, विपक्षी पार्टियों के नेताओं, पत्रकार और प्रमुख अफसरों की जासूसी कराना देश के नागरिक के अधिकारों का हनन है। इस पर केंद्र सरकार जवाब दें कि पेगासस सॉफ्टवेयर को किस वक्त व कितने रुपये में खरीदा गया है। इस पर पीएम नरेंद्र मोदी भी जवाब दें कि विदेशी सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से देश के प्रमुख लोगों की जासूसी कराना गलत है या नहीं है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी पेगासस सॉफ्टवेयर के विरोध में बोल रहे हैं। ऐसा भी हो सकता है कि इसी सॉफ्टवेयर के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की भी कोई प्राइवेट बात रिकॉर्ड की गई हो। जिसकी वजह से नीतीश कुमार को भाजपा के साथ जाने पर मजबूर होना पड़ा हो। उन्होंने कहा कि उस वक्त नीतीश कुमार व भाजपा के बीच रिश्ते तल्ख थे। इसके बाद डॉ. मदन मोहन झा ने बताया कि कांग्रेस पार्टी 22 जुलाई को देश में जासूसी प्रकरण के खिलाफ राजभवन मार्च निकालेगी। साथ मदन मोहन झा ने जासूसी प्रकरण को लेकर देश के गृह मंत्री अमित शाह से भी इस्तीफा दिए जाने की मांग उठाई।

Next Story