Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आने वाले जल्द लौट आएं बिहार, सीएम नीतीश ने स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बड़ी आर्थिक राहत का किया ऐलान

बिहार में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस पर लगाम कसने के बिहार सरकार ने बड़ा फैसला लिया। इस संबंध में सीएम नीतीश कुमार ने घोषणा करते हुए कहा कि रात्रि 9 बजे से सुबह 5 बजे तक हर जिले में नाइट कर्फ्यू रहेगा। सरकार की ओर से स्वस्थ्य कर्मियों के लिए भी एक बड़ा ऐलान किया गया है।

CM Nitish Kumar appealed people to return soon in Bihar Financial relief given for health workers
X

सीएम नीतीश कुमार

बिहार (Bihar) में तेजी से नए कोरोना संक्रमित मामले (New Corona Infected Cases) बढ़ रहे हैं। कोरोना पर रोकथाम लगाने के लिए सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की अध्यक्षता में रविवार शाम को क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक (Crisis Management Group Meeting) हुई। जिसमें बिहार के सभी जिलों में रात्रि 9 बजे से सुबह 5 बजे तक हर जिले में नाइट कर्फ्यू (Night curfew) लगाने का फैसला लिया गया। इसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने बिहार के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान कर दिया गया। बिहार में कोरोना वायरस पर लगाम कसने के लिए अन्य कई कड़े फैसले लिए गए। बैठक के बाद सीएम नीतीश कुमार ने प्रदेश में काम कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों को प्रोत्साहित करने के लिए भी बड़ी राहत का ऐलान किया। सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे जितने भी चिकित्साकर्मी हैं उनको एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा।

जल्द लौट आएं बिहार, नहीं तो बढ़ेंगी कठिनाइयां : सीएम

आपको बता दें महाराष्ट्र, दिल्ली समेत देश अन्य कई राज्यों में भी कोरोना से हालात बिगड़ रहे हैं। वहीं इन राज्यों में बिहार के लोग काम करते हैं। इन जगहों पर भी कोरोना की वजह से तहर-तरह की पाबंदियां लगाई जा रही हैं। इससे लोगों को समस्याएं आएंगी। इस पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि जो लोग भी बाहर हैं हम लोगों का ऐसे लोगों से अनुरोध है कि जितना जल्दी से जल्दी हो सके लौट आएं। हम लोगों का यह आग्रह है। हम लोगों की तरफ से जो भी सहयोग संभव है, हम करेंगे लेकिन आ जाएं। क्योंकि जितना देर करेंगे कठिनाईयां बढेंगी।

आज आए 8,690 नए कोरोना मामले: नीतीश कुमार

इससे पहले सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना के मामले प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। आज अभी कुछ देर पहले तक की रिपोर्ट है कि आज ही एक दिन में 8,690 नए मामले सामने आए। विमर्श करने के बाद काफी कुछ निर्णय लिया गया है। कुछ इलाकों को कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा।

Next Story