Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पिता की बरसी पर बड़े आयोजन की तैयारी कर रहे चिराग, पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा चाचा पारस को भी दिया न्योता

एलजेपी नेता चिराग पासवान अपने पिता एवं पूर्व मंत्री रामविलास पासवान की पहली बरसी के मौके पर बड़ा आयोजन करने की तैयारी कर रहे हैं। इस आयोजन के लिए चिराग ने पीएम नरेंद्र मोदी और सोनिया गांधी के अलवा अपने चाचा पशुपति कुमार पारस को भी निमंत्रण भेजा है।

Chirag Paswan will organize big event on anniversary of father Ram Vilas Paswan Invitation given for PM Narendra Modi and uncle Pashupati Paras
X

चिराग पासवान ने पीएम नरेंद्र मोदी और पशुपति पारस को दिया न्योता।

लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) के नेता चिराग पासवान (Chirag Paswan) अपने पिता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की पहली बरसी (Ram Vilas Paswan's first anniversary) पर यानी कि 12 सितंबर को पटना (Patna) में एक बड़ा आयोजन करने की तैयारी कर रहे हैं। चिराग पासवान ने इस आयोजन में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) समेत अन्य दिग्गज नेताओं को आमंत्रित किया है। क्योंकि यह कार्यक्रम ऐसे वक्त पर आयोजित हो रहा है। जब चिराग पासवान को अपने ही चाचा एवं केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस (Pashupati Kumar Paras) के साथ पिता की विरासत को आगे लेकर जाने के लिए जंग छिड़ी हुई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चिराग पासवान नई दिल्ली स्थित चाचा पारस के आवास पर भी इस कार्यक्रम का न्योता देने पहुंचे। चिराग पासवान ने जानकारी दी कि इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बिहार के सीएम नीतीश कुमार व राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को भी न्योता दिया गया है। आपको बता दें कि नीतीश कुमार व एलजेपी नेता चिराग पासवान के बीच संबंध अच्छे नहीं हैं।

जानकारी के अनुसार शहरी विकास मंत्रालय की ओर से रामविलास के निधन के बाद आवास को खाली करने के लिए शुरुआती नोटिस भेजा था। इसपर चिराग पासवान ने इस मामले को लेकर केंद्र सरकार के वरिष्ठ कार्यकारियों से मुलाकात की। इसके बाद चिराग परिवार को आगे कुछ दिनों तक उसी आवास में रहने की अनुमति दी गई। ऐसी बातें भी सामने आ रही हैं कि पशुपति कुमार पारस भी आठ अक्तूबर को अपने भाई रामविलास पासवान की बरसी पर कार्यक्रम आयोजित कर सकते हैं। आपको बात दें रामविलास पासवान का पिछले वर्ष आठ अक्तूबर को देहांत हुआ था। अपने कार्यक्रम में मौजूद रहने के लिए पशुपति कुमार पारस भी शीर्ष राष्ट्रीय नेताओं को न्योता भेज सकते हैं।

जानकारी के अनुसार जमुई सांसद चिराग पासवान पांरपरिक पंचांग के अनुसार 12 सितंबर को बरसी का कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। जहां एलजेपी के छह सांसदों में से 5 सांसद पुशपति कुमार पारस के साथ हो गए हैं। वहीं बीजेपी ने भी चिराग पासवान के पार्टी पर दावे को नजरअंदाज कर दिया है और पशुपति पारस को मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री का पद दिया है। दूसरी ओर लालू यादव व उनके पुत्र तेजस्वी यादव समेत अन्य कई विपक्षी नेताओं ने भी चिराग पासवान से संपर्क किया है। चिराग पासवान की ओर से बीजेपी द्वारा उनके साथ किए गए व्यवहार पर भी नाखुशी जाहिर की गई है। पर अब तक चिराग पासवान भविष्य के सियासी कदम को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं। चिराग का कहना है कि अब उनकी पहली प्राथमिकता संगठन को खड़ा करना है।

Next Story