Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना संकट के बीच परीक्षा कराएगा BPSC, नाराज परीक्षार्थियों ने आयोग से लगाई ये गुहार

बिहार में कोरोना वायरस ने जहां सामान्य जन-जीवन प्रभावित कर दिया हैं। प्रदेश में रोजाना हजारों की संख्या में लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। वहीं बीपीएससी ने ऑडिटर परीक्षा की तारीख की घोषणा कर दी है। असामान्य परिस्थितियों के बीच बीपीएससी के रवैये से परीक्षार्थी नाराज हो गए हैं।

Candidates Appeal to Postpone BPSC Auditor Exam on April 25 Coronavirus latest update Career News
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में दिन-प्रतिदिन कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। वहीं कोरोना संक्रमण ने जिंदगी की रफ्तार पर ब्रेक लगा कर रख दिया है। प्रदेश में रोजाना हजारों की संख्या में नए कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। इन सभी हालातों के बीच बिहार लोक सेवा आयोग यानी कि बीपीएससी ने अपनी ऑडिटर परीक्षा की तारीख की घोषणा कर दी है। बीपीएससी ऑडिटर परीक्षा को 25 अप्रैल को लेने जा रहा है। बीपीएससी ने ऑडिटर परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं। परीक्षार्थी असामान्य परिस्थितियों को देखखर एडमिट कार्ड जारी हाेते ही बीपीएससी के रवैये से नाराज ही गए हैं। साथ परीक्षार्थी ऑडिटर परीक्षा 25 अप्रैल को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं।

परीक्षार्थियों ने मीडिया के माध्यम आयोग से गुहार लगाई है कि कोरोना की वजह से प्रदेश में अभी हालात सामान्य नहीं है। इन हालातों के बीच परीक्षार्थी भी इधर-उधर फंसे हुए हैं। इन स्थितियों के बीच परीक्षा नहीं ली जाए। आपको बता दें विज्ञापन संख्या 67/2020 के तहत बीपीएससी ने पंचायत ऑडिटर की परीक्षा का विज्ञापन निकाला था। इसके लिए राज्य भर के करीब 2 लाख परीक्षार्थियों ने आवेदन किया था। आयोग ने परीक्षा के लिए जिस वक्त यह प्रवेश पत्र जारी किया है। उस वक्त पूरा देश कोरोना वायरस से जंग लड़ रहा है। इन हालातों के बीच सभी छात्रों का फिजिकली परीक्षा केंद्र पर पहुंचना अनिवार्य होगा।

सबसे बड़ी दिक्कत ये है कि इससे केवल परीक्षार्थियों को ही समस्या नहीं होगी, बल्कि जिला प्रशासन को भी बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि इतनी भारी संख्या में परीक्षार्थियों को कोरोना गाइडलाइन का पालन कराते हुए परीक्षा दिलवानी होगी और साथ ही सिटिंग अरेंजमेंट भी कोरोना गाइडलान के तहत करना होगा। बीपीएससी की ऑडिटर परीक्षा राज्य के चार कमिश्नरी जिले में गया, पटना, मुजफ्फरपुर और भागलपुर में आयोजित होगी। इस दौरान परीक्षार्थियों को परिवहन संबंधी भी बड़ी समस्या होगी। साथ परीक्षार्थियों को जान को भी जोखिम में डालनी पड़ेगी। अब इंतजार इस बात का है कि परीक्षार्थियों की गुहार के बाद क्या आयोग परीक्षा स्थगित करने का फैसला लेता है या इन्हीं हालातों के बीच परीक्षा आयोजित करता है।

आपको बता दें बिहार में बीते 24 घंटे में 7 हजार 487 नए कोरोना संक्रमित मामले सामने आए हैं। बिहार में बीते 24 घंटे में मौत के आंकड़ों ने भी अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। राज्य में 24 घंटे के अंदर 41 लोगों की कोरोना से जान चली गई। जो कि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक का सर्वाधिक मामला है। स्वास्थ्य विभाग की जानकारी के अनुसार बिहार में अब तक कोरोना संक्रमण की वजह से कुल 1790 लोग अपनी जान गवा चुके हैं।

Next Story