Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Caste Census: जदयू विधायक बोले- वह हैं यहां के हीरो, कार्य पूरा होने पर ठोक देंगे मंत्री बनने का दावा

बिहार में भागलपुर की गोपालपुर विधानसभा के जदयू विधायक गोपाल मंडल अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। अब गोपाल मंडल ने जातीय जनगणना की मांग का समर्थन किया है। साथ ही उन्होंने खुद के मंत्री बनने के लिए दावेदारी ठोकने के समय का भी खुलासा किया है।

Bihar Political News JDU MLA Gopal Mandal supports caste census Deputy CM Tar Kishore Prasad News
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में भागलपुर (Bhagalpur) जिले की गोपालपुर विधानसभा से जदयू विधायक गोपाल मंडल (JDU MLA Gopal Mandal) इन दिनों डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद (Deputy CM Tar Kishore Prasad) के खिलाफ दी गईं अपनी विवादित टिप्पणियों को लेकर सुर्खियों में चल रहे हैं। जदयू (JDU) विधायक गोपाल मंडल ने शनिवार को मीडिया कर्मियों से बातचीत करते वक्त जाति आधारित जनगणना (caste based census) को लेकर बयान दिया। इस दौरान जदयू विधायक गोपाल मंडल जाति आधारित जनगणना (caste census) का पक्ष लेते हुए नजर आए। साथ ही उन्होंने यह बात भी कही कि जिस दिन जातीय जनगणना हो जाएगी। वह उसके बाद मंत्री बनने के लिए अपनी ओर से दावा ठोक देंगे।

जदयू विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत करते वक्त हाल में डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के खिलाफ की गई विवादित टिप्पणियों पर भी सफाई देते हुए नजर आए। गोपाल मंडल ने जानकारी दी कि उनको पार्टी ने मामले को लेकर राजधानी पटना बुलाया था। यहां मीटिंग के दौरान यह विवाद हल हो गया। गोपाल मंडल ने कहा कि उन्होंने पूर्व में गलतफहमी के चलते इस तरह के बयान दे दिए थे।

इस दौरान गोपाल मंडल ने जातीय जनगणना का भी समर्थन किया। जदयू विधायक गोपाल मंडल ने मीडिया से बात करते हुए स्वयं को पूरे उत्तर बिहार का नायक भी करार दिया। गोपाल मंडल ने कहा कि वह अति पिछड़ों के नेता हैं। गोपाल मंडल ने इस दौरान स्वयं को भागलपुर, बांका, अररिया, मधेपुरा और पूर्णिया समेत कई जिलों का नायक करार दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जातिगत जनगणना हो गई तो उन्हें यह ज्ञात हो जाएगा कि गंगोता जाति की संख्या कितनी है। इसके बाद वह यह दावा ठोकेंगे कि उनको मान-सम्मान दिया जाए साथ ही मंत्री भी बनाया जाना चाहिए।

गोपाल मंडल ने ये बात भी कही कि यदि उन्हें कोई जिम्मेदारी दे दी जाए तो वह बयान नहीं देंगे। इसपर तर्क देते हुए गोपाल मंडल ने कहा कि जिम्मेदारी मिलने के बाद एक नेता नेता बंध जाता है। इसके बाद वह सोच-समझकर टिप्पणी करता है। गोपाल मंडल ने यह बात भी कही कि बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार पूरे 5 वर्ष चलेगी। साथ ही दावा किया कि वह जहर का सेवन कर लेंगे, लेकिन विरोधियों की सरकार नहीं बनने देंगे।

और पढ़ें
Next Story