Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नकली नोट के बड़े कारोबार का पर्दाफाश, पुलिस ने आठ तस्करों को भी रंगे हाथ किया गिरफ्तार

बिहार में मुजफ्फरपुर और उसके आसपास के जिलों में नकली नोट के धंधे का पर्दाफाश हुआ है। मुजफ्फरपुर पुलिस ने जाली नोट के कारोबार में लिप्त आठ तस्करों को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

Bihar Police raid exposed Big business of fake currency arrested eight smugglers Muzaffarpur news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर बिहार (North Bihar) में मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) और आसपास के जिलों में नकली नोट (Fake Currency) के बड़े कारोबार का पर्दाफाश हुआ है। मुजफ्फरपुर पुलिस (Police) ने ररिवार की रात में यह सफल कार्रवाई की। इस दौरान बिहार पुलिस (Bihar Police) की विशेष टीम ने मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर क्षेत्र से 9 लाख के नकली नोट के साथ 8 तस्करों को भी अरेस्ट कर लिया है। तस्करों से बरामद हुए तमाम नोट 100-100 रुपये के हैं। पुलिस ने इन तस्करों के कब्जे से नेपाली करेंसी भी जब्त की है। पुलिस गिरफ्त में आए नकली नोट तस्कर मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, मोतिहारी जिलों के रहने वाले हैं।

मामले को लेकर एसएसपी जयंत कांत ने बताया कि रविवार की रात में मोतीपुर के तस्कर नकली नोट को लेकर मोतिहारी की ओर चंपत होने की फिराक में थे। ये तस्कर एक कार में इन नकली नोट को लेकर जा रहे थे। इस बात की भनक पुलिस को लग गई। तुरंत एएसपी वेस्ट सैयद इमरान मसूद की अगुवाई में पुलिस की एक विशेष टीम (special team of police) गठित कर दी गई। पुलिस की विशेष टीम ने मोतीपुर व मोतिहारी के बीच में तस्करों के वाहन को पकड़ लिया। उक्त वाहन स्कॉर्पियो था। पुलिस ने जब वाहन की तलाशी ली तो उसमें नकली नोट पाए गए। तुरंत पुलिस ने जाली नोट तस्कर को भी दबोच लिया।

इसके बाद रविवार की रात में ही पुलिस की विशेष टीम ने गिरफ्त में आए तस्कर के बताए ठिकानों पर मोतिहारी से लेकर सीतामढ़ी और भारत-नेपाल सीमा पर भी कई जगहों पर छापामारी कार्रवाई की। इसी कार्रवाई के दौरान कुल 8 जाली नोट तस्कर पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस के विशेष दल ने इस कार्रवाई के दौरान कुल 9 लाख रुपये के नकली नोट जब्त किए।

इस कार्रवाई से यह भी पर्दाफाश हुआ कि जाली नोट का यह धंधा बिहार के कई जिलों में जारी है। कहा जा रहा है कि इस गिरोह के सदस्य असली नोटों के बीच इस फेक करेंसी को खपाते हैं। वहीं मोतिहारी के कई क्षेत्रों में कंप्यूटर की मदद से नकली नोट छापने का भी भंडाफोड़ हुआ है। पर इसको लेकर पुलिस ने अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी जारी नहीं की है।

एसएसपी जयंत कांत के मुताबिक फेक करेंसी को लेकर यह छापामारी कार्रवाई अभी भी जारी है। पुलिस को अनुमान है कि इस मामले में और कड़ियां खुलेंगी साथ और ज्यादा नकली नोट बरामद हो सकते हैं। इसके अलावा कई अन्य लोग भी पुलिस के शिकंजे में आ सकते हैं। मामले में कार्रवाई पूरी होने के बार ही पत्रकारों को इस संबंध पुलिस की ओर से पूर्ण जानकारी दी जाएगी।

Next Story