Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कुख्यात मुन्ना मिश्रा एके-47 के साथ दबोचा गया, पत्नी को यूपी पुलिस ने इस मामले में किया गिरफ्तार

बिहार एसटीएफ व गोपालगंज पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए कुख्यात मुन्ना मिश्रा को अरेस्ट कर लिया है। मुन्ना पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। मुन्ना पर लूट, हत्या व अपहरण समेत विभिन्न केस दर्ज हैं। वहीं मुन्ना की पत्नी को भी हत्या मामले में गिरफ्तार किया गया है।

Bihar Police arrested notorious crook Munna Mishra with AK 47 from Ballia in UP bihar crime news
X

मुन्ना मिश्रा (वायरल तस्वीर)

बिहार पुलिस (Bihar Police) को बड़ी सफलता हाथ लगी है। क्योंकि बिहार एसटीएफ (Bihar STF) और गोपालगंज पुलिस (Gopalganj Police) ने मिलकर संयुक्त कार्रवाई करते हुए कुख्‍यात बदमाश मुन्‍ना मिश्रा (Notorious crook Munna Mishra) को यूपी (UP) के बलिया (Baliya) जिले से गिरफ्तार (Arrested) करने में कामयाबी हासिल की है। ये बात भी सामने आई है कि यूपी पुलिस (UP Police) ने हत्या (Murder) मामले में उसकी पत्नी अन्नू मिश्रा को भी गिरफ्तार कर लिया है। वहीं बिहार पुलिस ने मुन्‍ना मिश्रा के कब्जे से एक एके-47 (AK-47) और 28 जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं। जानकारी के अनुसार मुन्‍ना मिश्रा के खिलाफ हत्या, अपहरण, डकैती और रंगदारी समेत करीब 18 गंभीर आपराधिक मामले चल रहे हैं।

कुख्यात मुन्ना मिश्रा उर्फ दिलीप मिश्रा गोपालगंज जिले के कटेया थाना इलाके के पानन महुअवा गांव का स्थाई निवासी है। मुन्ना मिश्रा को अरेस्ट करने के बाद पुलिस उसे लेकर बिहार के गोपालगंज जिले के लिए निकल ली है। बताया जा रहा है कि मुन्‍ना मिश्रा करीब 8 वर्षों से पुलिस को चकमा दे रहा था। बिहार पुसिल की ओर से मुन्ना मिश्रा पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। जानकारी के अनुसार करीब दो माह पहले कटेया थाना स्थित जमुनहा में एक शिक्षक के मर्डर मामले में मुन्ना मिश्रा का नाम आया था। शिक्षक हत्याकांड के बाद से बिहार पुलिस मुन्ना को गिरफ्त में लेने के लिए यूपी व बिहार के कई जिलों में लगातार छापेमारी कर रही थी।

इस दौरान गोपालगंज एसपी आनंद कुमार को सूचना हासिल हुई कि कुख्यात बदमाश मुन्‍ना मिश्रा यूपी के गोरखपुर, देवरिया और बलिया जिलों में रह रहा है। यह भी पता चला कि मुन्ना मिश्रा लगातार ठिकाने परिवर्तन कर रहा है। सूचना के बाद गोपालगंज के एसपी आनंद कुमार ने मुन्ना मिश्रा को पकड़ में लेने के लिए एक टीम गठित की। इसके बाद गोपालगंज पुलिस और बिहार एसटीएफ की टीम यूपी पहुंची। बिहार एसटीएफ मुन्ना मिश्रा को दबोचने के लिए यूपी में लगातार छापेमारी कार्रवाई कर रही थी। इस बीच बिहार एसटीएफ ने घेराबंदी करके यूपी के बलिया जिले से कुख्यात बदलाश मुन्‍ना मिश्रा को अरेस्ट कर लिया। इस दौरान पुलिस को मुन्ना मिश्रा के पास से एक एके 47 और 28 जिंदा कारतूस मिले।

यूपी में नाम व वेष बदलकर रह रहा था मुन्‍ना

जानकारी के अनुसार मुन्‍ना मिश्रा उत्तर प्रदेश में नाम और वेष बदलकर रहता था। बिहार में क्राइम करने के बाद वह यूपी फरार हो जाता था। मुन्‍ना लखनऊ, गोरखपुर, व देवरिया में नाम और अपनी पहचान बदल कर रहता था। वर्ष 2012 में मुन्ना मिश्रा को अरेस्ट किया गया था। उसके बाद से ही मुन्ना फरार था। मुन्‍ना मिश्रा कारोबारियों व ठेकेदारों से रंगदारी वसूलता था। मुन्ना मिश्रा जबरन भूमियों पर अवैध कब्‍जे जमाने में भी लिप्त था। मुन्‍ना मिश्रा को इतना बेदर्द बताया जाता है कि यदि उसको किस पर संदेह हो जाए कि वह कुछ खुलासा कर सकता है। वह उस शख्स की जान ले लेता था।

यूपी के देवरिया में गिरफ्तार की गई पत्नी

गोपालगंज एसपी आनंद कुमार ने मुन्ना मिश्रा की गिरफ्तारी को गोपालगंज पुलिस के लिए बड़ी कामयाबी करार दिया है। वहीं उन्होंने कहा कि पुलिस का प्रयास होगा कि मुन्ना मिश्रा के खिलाफ स्पीड ट्रायल चलाकर जल्द से जल्द सजा कराई जाए। जिससे आम जनता में पुलिस व कानून के प्रति भरोसा बना रहे। वहीं एसपी ने बताया कि पुलिस ने मुन्ना मिश्रा के पत्नी अन्नू मिश्रा को भी अरेस्ट कर लिया है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश की देवरिया पुलिस ने मुन्ना मिश्रा की पत्नी अन्नू मिश्रा को अरेस्ट करने में सफलता हासिल की है। जमनुहा हत्याकांड में अन्नू मिश्रा की मुख्य भूमिका होने का शक है।

Next Story