Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लॉकडाउन जैसे हालात ! बिहार में 16 मई तक के लिए सभी खेल गतिविधियों पर लगाई गई रोक

Coronavirus : बिहार में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। कला संस्कृति एवं युवा विभाग ने भी इसको लेकर बड़ा फैसला लिया है। फैसले के अनुसार प्रदेश में 16 मई तक के लिए खेल से जुड़ी सभी गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है।

Bihar government bans all sports activities till May 16 Circumstances like lockdown Coronavirus update
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में कोरोना संक्रमण (Corona infection) लगातार खतरनाक होता जा रहा है। इसी को लेकर कला संस्कृति एवं युवा विभाग (Art culture and youth department) ने बड़ा फैसला लिया है। फैसले के मुताबिक प्रदेश में 16 मई तक राज्य के सभी इंडोरगेम, आउटडोर गेम स्टेडियम और जिम संचालन पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा प्रदेश में सभी तरह के खेल प्रशिक्षणों (Sports trainings) पर भी पाबंदियां (Restrictions) लगा दी गई हैं। सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के साथ सचिवालय में शुक्रवार को मंत्रिमंडल की बैठक हुई। इसी बैठक के बाद कला संस्कृति विभाग ने यह आदेश जारी किया। अब 16 मई तक खेल से जुड़ी किसी भी गतिविधि में राज्य में लोग भाग नहीं ले पाएंगे। इसके अलावा लोग जिम में भी फिटनेस का प्रशिक्षण नहीं ले पाएंगे। बिहार सरकार की ओर से 15 मई तक सभी स्मारक और पुरातात्विक स्थलों पर भी परिभ्रमण पर रोक लगा दी गई है। इस अब किसी भी स्मारक और पुरास्थल पर पर्यटकों की आवाजाही नहीं होगी।

आदेश में बताया गया है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 (Global pandemic Covid-19) की दूसरी लहर के दौरान राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। वहीं तेजी से फैल रहे कोरोना की की कड़ी को तोड़ने के लिए 16 मई तक प्रदेश में सभी खेल कांप्लेक्स, इनडोर और आउटडोर स्टेडियम, मैदानों में खेलों का आयोजन, कार्यक्रमों एवं प्रशिक्षण साथ ही जिम संचालन पर रोक लगाई जाती है। पूरे प्रदेश में यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है।

बिहार में कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 33 हजार के पार

आपको बता दें कि बिहार में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 33 हजार 456 पर पहुंच गई है। वहीं कोरोना को लेकर 17 अप्रैल को राज्यपाल के साथ सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है। जिसमें राज्यपाल के साथ सीएम नीतीश कुमार और दोनों डिप्टी सीएम भाग लेंगे। इस संबंध में बिहार सरकार सभी राजनीतिक पार्टियों से सुझाव लेगी। उसके बाद 18 अप्रैल को बिहार सरकार लॉकडाउन लगाने या नाइट कर्फ्यू लगाने पर फैसला ले सकती है।

Next Story