Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार चुनाव: मांझी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र- राम विलास पासवान की मौत की जांच करायें, चिराग ने किया पलटवार

Bihar Assembly Elections 2020: 'हम' अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राम विलास पासवान की मौत की जांच कराये जाने की मांग की है। साथ ही मांझी ने चिराग पासवान को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है। जिस पर चिराग पासवान ने पलटवार किया है।

bihar elections jitan ram manjhi wrote a letter to pm narendra modi regarding the investigation into the death of ram vilas paswan
X

एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के आरोपों पर किया पलटवार।

Bihar Assembly Elections 2020: बिहार में एनडीए के सहयोगी दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान की मौत के कारणों को लेकर सवाल खड़े कर दिये हैं। आपको बता दें, राम विलास पासवान एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान के पिता थे।

वहीं सोमवार को हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा प्रमुख जीतन राम मांझी ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। पीएम मोदी को लिखे पत्र में जीतन राम मांझा ने एलजेपी नेता राम विलास पासवान की मौत की जांच की मांग की। पत्र में जीतन राम मांझी ने कहा कि राम विलास पासवान के निधन से जुड़े कई ऐसे सवाल हैं जो अपने आप में चिराग पासवान को कटघरे में खड़ा करते हैं। इससे पहले भी एनडीए की संयुक्त प्रेस वार्ता के दौरान 'हम' दानिश रिजवान ने भी राम विलास पासवान की मौत के कारणों को लेकर संदेह जाहिर किया था।


जीतन राम मांझी को आनी चाहिये शर्म: चिराग पासवान

एजजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को ही मीडिया कर्मियों से बातचीत कर जीतन राम मांझी के आरोप पर पलटवार किया है। चिराग पासवान ने कहा कि जीतन राम मांझी को शर्म आनी चाहिये। जब मेरे पिता 'राम विलास पासवान' अस्पताल में थे। चिराग पासवान ने बताया कि तब उनकी बात जीतन राम मांझी जी से हुई थी। साथ ही उस वक्त चिराग पासवान ने बता दिया था कि उनके पिता जी की तबीयत बहुत खराब है।

जब पिता जीवित थे तब मांझी ने क्या किया: चिराग पासवान

वहीं चिराग पासवान ने सवाल किया है कि जब उनके पिता 'राम विलास पासवान' जीवित थे। साथी वे अस्पताल में भर्ती थे। उस वक्त क्या किया जीतन राम मांझी ने और आज इस तरह से बातें कर रहे हैं। चिराग पासवान ने मांझी से पूछा कि इतनी चिंता उस वक्त क्यों नहीं थी। चिराग पासवान ने कहा कि मुझे अब यह समझ नहीं आ रहा कि जो व्यक्ति आज इस दुनिया में नहीं है। उस पर अब सब राजनीति करने को क्यों तैयार हैं?

Next Story