Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: स्वास्थ्यकर्मी की मौत पर परिजनों को विशेष पेंशन और आश्रित को मिलेगी नौकरी

बिहार में कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर स्वास्थ्यकर्मियों और डॉक्टरों की मौत भी हो रही हैं। इसको लेकर बिहार सरकार ने खास निर्णय लिया है। निर्णय के अनुसार कोरोना काल में यदि किसी स्वास्थ्य कर्मी की मौत होती है तो उनके आश्रित को नौकरी और पेंशन दी जाएगी।

Bihar cabinet decision families get special pension and dependent get job on health worker death during corona treatment Coronavirus news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण (Corona infection) को लेकर बिहार सरकार (Government of Bihar) चिंतित है। इसको लेकर पटना (Patna) में बिहार सरकार की ओर से सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के नेतृत्व में मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई गई थी। जिसमें कोरोना पॉजिटिव मरीजों की सेवा में लगे डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मी (Doctors and health workers) के हित में बड़ा निर्णय लिया गया। इस दौरान सीएम नीतीश कुमार की मौजूदगी में कैबिनेट की बैठक (Cabinet meeting) में फैसला लिया कि कोविड 19 के इलाज (Covid 19 treatment) में लगे किसी भी स्वास्थ्यकर्मी या डॉक्टर की मौत होती है तो उनके परिजनों को विशेष पेंशन और आश्रितों को नौकरी दी जाएगी।

बिहार कैबिनेट के निर्णय के अनुसार डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों की मौत पर उनके वेतन के बराबर उनके सेवाकाल का पूरा भुगतान भी किया जाएगा। इसको विशेष पारिवारिक पेंशन का नाम दिया गया है। वहीं बिहार सरकार ने अपने इस फैसले की अवधि में एक साल का विस्तार दिया है। आपको बता दें पारिवारिक पेंशन का यह निर्णय बीते वर्ष में ही लिया गया था। कैबिनेट बैठक में लिया गया यह फैसला स्वास्थ्यकर्मियों और डॉक्टरों के मनोबल को बढ़ाने में काफी अहम योगदान देने वाला साबित होगा।

आश्रित को नौकरी देने वाला देश का पहला राज्य बना बिहार

कोरोना काल में डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों की मौत पर उनके आश्रितों को नौकरी देने के बिहार सरकार के निर्णय को एतिहासिक करार दिया जा रहा है। भाजपा राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर कहा कि बिहार पहला राज्य है जिसने 2020 में कोरोना के समय स्वास्थ्यकर्मियों को एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया व अब कोरोना से मौत पर पारिवारिक पेंशन और आश्रितों को नौकरी देने वाला राज्य बन गया। इस फैसले से लाखों स्वास्थ्य कर्मियों को मानसिक मजबूती मिलेगा। इसके अलावा कोरोना को हराने में सरकार के अभियान को शक्ति मिलेगी।

दर्जनभर से ज्यादा स्वास्थ्य वकर्स की हो चुकी है मौत

जानकारी के अनुसार बिहार में कोरोना के दूसरी लहर ने कई स्वास्थ्यकर्मियों की जान ले ली है और कई स्वास्थ्य कर्मी कोरोना की चपेट में हैं। वहीं एक दर्जन से अधिक स्वास्थ्य वकर्स की मौत कोरोना की वजह से हुई है। ऐसे में बिहार सरकार का निर्णय मजबूती देने वाला साबित होगा।

Next Story