Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bihar Assembly Elections 2020: जदयू का 'निश्चय पत्र 2020' के नाम से घोषणापत्र जारी, नीतीश बोले- बनायेंगे स्वावलंबी बिहार

Bihar Assembly Elections 2020: जदयू ने चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र 'निश्चय पत्र 2020' के नाम से जारी कर दिया है। पार्टी के घोषणापत्र में युवा, महिला, खेती, स्वच्छता, सुलभ संपर्कता व स्वास्थ्य को लेकर बातें रखी गई हैं। घोषणापत्र को लेकर नीतीश कुमार ने कहा कि जनता के सहयोग से स्वावलंबी बिहार बनाएंगे।

bihar assembly elections 2020 jdu manifesto released nitish kumar will make self supporting bihar
X

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: जदयू ने चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र 'निश्चय पत्र 2020' के नाम से जारी कर दिया।

Bihar Assembly Elections 2020: जदयू द्वारा रविवार को अपना चुनावी घोषणापत्र 'निश्चय पत्र 2020' के नाम से जारी कर दिया गया है। जदयू के घोषणापत्र में युवा शक्ति, सशक्त महिला, हर खेत तक सिंचाई का पानी, स्वच्छ गांव, स्वच्छ शहर, सुलभ संपर्कता व सबके लिए अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा समेत विभिन्न बातों पर फोकस किया गया है। पार्टी द्वारा जारी किये घोषणापत्र को लेकर बिहार के सीएम एवं जदयू अध्यक्ष ने ट्वीट के माध्यम से अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। नीतीश कुमार ने लिखा कि लोगों की सेवा करना हमारा धर्म है। आप सभी को धन्यवाद कि मुझे बिहार की सेवा करने का मौका दिया। मुझे विश्वास है कि आपके सहयोग व आशीर्वाद से 7 निश्चय भाग-2 को क्रियान्वित कर हम राज्य को विकास की और ऊंचाईयों तक पहुंचाते हुए सक्षम एवं स्वावलंबी बिहार बनाएंगे। इसके अलावा सीएम नीतीश कुमार ने पार्टी के घोषणापत्र 'निश्चय पत्र 2020' की प्रति सोशल मीडिया पर साझा की है। जिसमें विस्तार विभिन्न बातों पर फोकस किया गया है।





1.युवा शक्ति- बिहार की प्रगति

7 निश्चय के तहत बिहार में युवाओं के लिये विभिन्न कार्यक्रम चलाये गये हैं। जैसे उच्च शिक्षा के लिये बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, युवाओं को रोजगार ढूंढने में मदद, कम्प्यूटर, संवाद कौशल एवं व्वहार कौशल प्रशिक्षण देने के लिये कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं। ये कार्यक्रम आगे भी जारी रहेंगे। अब इसके साथ-साथ बिहार के युवाओं को सशक्त बनाने पर काम होगा, बेहतर तकनीकी प्रशिक्षण पर काम किया जायेगा, जोकि रोजगार के अवसर मिल सकें, उद्यमिता बढ़ाई जायेगी, जिससे प्रदेश के युवा स्वयं उद्यमी बन सकें व वे अन्य लोगों को भी रोजगार मुहैया करा सकें।

इसके अलावा बिहार में सभी आईटीआई एवं पॉलीटेक्निक संस्थानों में प्रशिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाई जायेगी। सभी संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों को आधुनिक तकनीकि का प्रशिक्षण मिलेगा। सभी जिले में कम से कम एक मेगा स्किल सेंटर भी खुलेगा। जिसमें अनट्रेंड युवाओं को रोजगार पाने योग्य बनाया जाएगा। युवाओं को स्वयं का व्यवसाय शुरू करने के लिए मदद दी जाएगी। खास बात यह कि व्यवसाय के लिए अधिकतम 3 लाख रुपये का ऋण 50 फीसदी अनुदान के साथ दिया जाएगा।

2. सशक्त महिला एवं सक्षम महिला

महिलाओं में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिये विशेष योजना लायी जायेगी। जिसके तहत महिलाओं को उद्योग लगाने के लिए 50 फीसदी अनुदान के साथ 5 लाख रुपये तक की मदद मिलेगी। 12वीं पास अविवाहित महिलाओं को 25,000 व स्नातक अविवाहित महिलाओं को 50,000 रुपये दिए जाएंगे। जिससे की वो आगे पढ़ाई जारी रख सकें। इसके अलावा पुलिस थाना, प्रखंडों, अनुमंडल एवं जिलास्तरीय कार्यालयों में आरक्षण के अनुरूप महिलाओं की भागीदारी बढ़ाई जाएगी।

3. हर खेत तक सिंचाई का पानी

जदयू के घोषणापत्र में हर संभव माध्यम से हर खेत तक सिंचाई के लिये पानी उपलब्ध कराने की बात कही गई है। इस बात को 7 निश्चय पार्ट-2 में लिखित रूप से शामिल किया गया है।

4.स्वच्छ गांव - समृद्ध गांव

जदयू के घोषणा पत्र में लिखा गया है कि सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जायेंगी, इसके नियमित अनुरक्षा की भी व्यवस्था की जायेगी। गांव में कचरा प्रबंधन की व्यवस्था भी किये जाने की बात कही गई है। वार्ड स्तर पर नालों व गलियों की साफ - सफाई पर ध्यान दिया जयेगा। गांवों में प्रत्येग घर से ठोस कचरा इकट्ठा किया जाएगा। आधुनिक तकनीकों के माध्यमों से दुग्ध उत्पादन, मुर्गी पालन, मछली पालन आदि को बढ़ावा दिया जाएगा। इससे राज्य के पशुपालकों और मछली पालकों की आय बढ़ेगी।

5. स्वच्छ शहर - विकसित शहर

पार्टी के घोषणापत्र के अनुसार इस चिश्चय के माध्यम से शहरों में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रवंधन की व्यवस्था की जायेगी। इसके साथ-साथ बुजुर्गों के लिए सभी शहरों में आश्रय स्थल बनेंगे व इनके प्रबंधन की भी व्यवस्था होगी। शहरी गरीबों के लिए बहुमंजिला भवन बनाये जायेंगे। प्रत्येक शहर में नदीं घाटों पर विद्युत शवदाह गृह सहित मोक्षधाम का निर्माण होगा। शहरों में स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम को विकसित होगा। जिससे जलजमाव की कोई समस्या उत्पन्न ना हो सके।

6. सुलभ संपर्कता

जदयू के इस निश्चय के अनुसार ग्रामीण सड़कों को मुख्य सड़क से जोड़ने पर काम होगा। सभी गांवों की सड़कों को प्रखंड/थाना/अनुमंडल के अलावे बाजार, अस्पताल, राज्य हाईवे व नेशनल हाईवे तक संपर्कता के लिए नई सड़कें बनाई जायेंगी। शहरों में जाम की समस्या से मुक्ति व साथ ही सुचारू यातायात के संचालन के लिए जरूरी बाईपास या फ्लाईओवर का निर्माण भी होगा।

7. सबके लिए अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा

नीतीश कुमार की पार्टी के के घोषणापत्र में इस बात पर भी फोकस किया गया है कि हरएक 8 से 10 पंचायतों पर पशु अस्पताल की व्यवस्था करवाई जाएगी। सूबे में पशुओं के लिए चिकित्सा सुविधा, टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान, कृमिनाशक जैसी सेवाओं की डोर स्टेप डिलिवरी कराने का इंतजाम किया जायेगा। कॉल सेन्टर में फोन कर या मोबाइल ऐप के जरिये इन सुविधाओं को हासिल कर सकेंगे। इसके अलावा सूबे में पशुओं की सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधाएं फ्री रहेंगी।

Next Story