Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bihar Assembly Elections 2020: भाजपा नेत्री संगीता सिंह को नहीं मिला टिकट, अमनौर से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर उतरेंगी मैदान में

Bihar Assembly Elections 2020: जहां भाजपा विपक्षी महागठबंधन को घेरने में जुटी है। वहीं छपरा की अमनौर सीट से टिकट नहीं मिलने पर भाजपा नेत्री संगीता सिंह को नाराज बताया जा रहा है। संगीता सिंह ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है।

bihar assembly election 2020 bjp leader sangeeta singh independent candidate
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

Bihar Assembly Elections 2020: एक ओर तो बिहार में भाजपा विधानसभा चुनावों को लेकर पूरी तरह से विपक्षी महागठबंधन 'राजद-कांग्रेस और माले' को घेरती हुई नजर आ रही है। इसी कड़ी में बिहार भाजपा के प्रभारी भूपेंद्र यादव ने शनिवार को ट्वीट कर विपक्षियों पर निशाना साधा है। दूसरी ओर पार्टी के अंदर से ही महिलाओं उपेक्षा करने की खबरें सामने आ रही हैं। जानकारी है कि छपरा की अमनौर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की स्थानीय महिला नेत्री संगीता सिंह पार्टी से नाराज बताई जा रही हैं। संगीता सिंह को पार्टी ने अमनौर विधानसभा सीट से उम्मीदवार नहीं बनाया है। जिसको लेकर संगीता सिंह ने अमनौर विधानसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। बताया जाता है कि बीते दिन संगीता सिंह ने अपने विधानसभा क्षेत्र के हुसेपुर पंचायत के नोनिया टोली में अपने समर्थकों संग बैठक कर निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया। बताया जाता है कि मीटिंग में उपस्थित सभी महिला नेताओं ने एक आवाज में संगीता सिंह के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने की बात कही गई। बैठक के दौरान संगीता सिंह ने कहा कि सूबे में सभी सियासी दल महिलाओं को आगे बढ़ाने की बाते तो करते नजर आते हैं। लेकिन जब पार्टी से उम्मीदवार बनाये जाने की बारी आती है तो ये सियासी दल महिलाओं को लेकर बोली गई सभी बातों को भूल जाते हैं।

बिहार में अब है शांति व खुशहाली का दौर: भूपेंद्र यादव

बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव ने शनिवार को एक के बाद एक कई ट्वीट कर विरोधियों व बिहार की पूर्व सरकारों पर निशाना साधा है। भूपेंद्र यादव ने कहा कि बिहार में एक समय ऐसा भी था। जब यहां के चौक-चौराहों, गांव-गिरांव की गलियों में वर्गीय संघर्ष के नारे गूंजा करते थे। सूबे में चुनाव हिंसा और संघर्ष की चपेट में आये बिना पूरे नहीं होते थे। वहीं भूपेंद्र यादव ने दावा किया कि अब बिहार में शांति व खुशहाली का दौर है। बिहार अब संघर्ष की उस परिस्थिति से बाहर निकलकर प्रगति कर रहा है।



भाजपा नेता बोले- जनता ने विपक्षी महागठबंधन को हराना कर लिया तय

भूपेंद्र यादव ने अन्य ट्वीट के माध्यम से कहा कि सूबे की जनता ने तय कर लिया है। इस बार के विधानसभा चुनावों में स्वस्थ लोकतंत्र, शान्ति व्यवस्था व बिहार की समृद्धि की गति को निरंतरता को जारी रखने के लिए राजद-कांग्रेस व 'माले' के अपवित्र गठबंधन को हराना है। वहीं उन्होंने कहा कि बिहार की जनता सूबें में एक बार फिर से एनडीए की मजबूत सरकार को लायेगी।

एनडीए की सरकार से पहले बिहार के कई जिले वामपंथी उग्रवाद की चपेट में थे: भूपेंद्र यादव

भूपेंद्र यादव ने एक और ट्वीट के जरिये कहा कि पूर्व बिहार के कई जिले वामपंथी उग्रवाद से जूझ रहे थे। उस दौर को कोई भी नहीं भूल सकता है। उन्होंने कहा कि एनडीए की सरकार से पहले बिहार के आरा, बक्सर, औरंगाबाद जैसे कई जिले वामपंथी उग्रवाद की चपेट में थे। भाजपा नेता ने कहा कि इन जगहों पर लोग शाम ढलने के बाद सड़कों पर निकलने से घबराते थे। वहीं भूपेंद्र यादव ने दावा किया कि वर्तमान में ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि बिहार अब शांति व समृद्धि की जिस राह पर चल रहा है। उसके पीछे भाजपा-जदयू की एनडीए सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति वजह है।

Next Story