Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: अब सेना ने अपने हाथों में ली कोरोना अस्पताल की कमान, ऐसे बचायेंगे मरीजों की जान-मिलेगी राहत

बिहार की राजधानी पटना में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। बिहार सरकार ने पटना में कोरोना मरीजों के लिए इलाज के लिए बिहटा में ईएसआईसी 'ESIC' अस्पताल को कोविड-डेडिकेटेड हॉस्पिटल बनाया है। वहीं इस अस्पताल की कमान सेना ने संभाल ली है।

army takes over command of bihta esic hospital corona patients will get relief in patna Bihar Coronavirus latest update
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

Coronavirus : बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में कोरोना संक्रमण (Corona infection) बेकाबू होता जा रहा है। बिहार सरकार (Government of Bihar) ने पटना में कोरोना मरीजों (Corona patients) के लिए इलाज के लिए बिहटा में ईएसआईसी अस्पताल (Bihata ESIC Hospital) को कोविड-डेडिकेटेड हॉस्पिटल (Covid-Dedicated Hospital) बनाया है। वहीं इस अस्पताल की कमान सेना (Army) ने संभाल ली है। इस अस्पताल में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 500 बेड हैं।

कोरोना संकट के बीच बिहार की राजधानी से एक राहत भरी खबर सामने आई है। खबर ये है कि पटना में अब कोरोना संक्रमित मरीजों का बेहतर इलाज हो सकेगा। इसका कारण ये है कि बिहटा के ईएसआईसी अस्पताल की कमान अब सेना के जवानों ने संभाल ली है। जानकारी के अनुसार बीते दिनों पूर्वोत्तर स्थित आर्मी बेस से सेना की दो फील्ड हॉस्पिटल की टीम वायु सेना के विमान से पटना पहुंची थी। जानकारी के अनुसार इस टीम में स्पेशलिस्ट डॉक्टर के साथ मेडिकल टीम भी है। जानकारी के अनुसार अगले दो से तीन दिनों में बिहटा ईएसआईसी अस्पताल 500 बेड का कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल बन जाएगा। बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में 100 बेड के आईसीयू की व्यवस्था रहेगी।

याद रहे पहले बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में केवल 100 बेड थे। कोरोनाकाल में सेना द्वारा मोर्चा संभालने के बाद अब बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में 500 बेड होंगे। इनमें से 100 बेड का आईसीयू होगा। सेना के हाथ में कमान आने के बाद बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में तेजी से काम शुरू हो गया है। बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में कोविड से जुड़ी सभी अत्याधुनिक सुविधाएं मौजूद रहेंगी। बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में आईसीयू, वेंटिलेटर, मॉनिटरिंग उपकरण के साथ सभी बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा मौजूद होगी। सेना द्वारा अस्पताल के लिए एम्बुलेंस के साथ कई उपकरण भी लाए गए हैं। सेना के अधिकारियों ने बिहटा ईएसआईसी अस्पताल के प्रबंधन के साथ बैठक कर इलाज की सुविधाओं और बारीकियों पर विशेष चर्चा की है।

पटना समेत आसपास के लोगों को मिलेगी बड़ी राहत

सेना द्वारा बिहटा ईएसआईसी अस्पताल का मोर्चा संभालने के बाद पटना के अलावा आसपास के जिले वासियों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है। अभी पटना के एनएमसीएच (NMCH) को करीब 400 बेड का कोविड डेडिकेटेड अस्पताल बनाया गया है। पटना में सरकारी से लेकर प्राइवेट अस्पतालों में मरीजों को जगह नहीं मिल पाने की वजह से बिहटा ईएसआईसी अस्पताल की जरूरत महसूस की जा रही थी। इन हालातों के बीच बिहटा ईएसआईसी अस्पताल में 500 बेड का कोविड डेडिकेटेड अस्पताल हो जाने पर कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर इलाज मिल पाएगा।

और पढ़ें
Next Story