Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : जीतन राम मांझी आज 'हम' की एनडीए में शामिल होने की करेंगे घोषणा

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की हलचलों के बीच सूबे में नेताओं और सियासी दलों का पाला बदने का क्रम जारी है। इसी कड़ी में आज जीतन राम मांझी अपनी पार्टी 'हम' की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन 'एनडीए' में शामिल होने की घोषणा करेंगे। मांझी ने गत माह में ही विपक्षी महागठबंधन का साथ छोड़ा था।

amidst the stir of bihar assembly elections 2020 today jitan ram manjhi will announce to join his party
X
मीडिया से बातचीत करते जीतन राम मांझी।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की सुगबुगाहट के बीच सूबे में नेताओं और राजनीतिक पार्टियां अपने लिये मजबूत सियासी जमीन तलाशने में जुटे हैं। इसी को लेकर सूबे में नेताओं और सियासी दलों का इधर से उधर होने का क्रम जारी है। जानकारी है कि बुधवार को बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी अपनी पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा 'हम' की बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन 'एनडीए' में शामिल होने की घोषणा करेंगे। याद रहे जीतन राम मांझी ने बीते महीने में ही हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा 'हम' की विपक्षी महागठबंधन से अलग होने की घोषणा की थी।



इस दौरान 'हम' अध्यक्ष जीतन राम मांझी के पुत्र एमएलसी संतोष सुमन ने कहा था कि हमारी पार्टी को 'विपक्षी महागठबंधन' में नजरअंदाज किया गया। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में हमारी पार्टी 'हम' को ऐसे महसूस कराया जा रहा था कि हमारे पास कोई क्षमता ही नहीं है। संतोष ने कहा था कि हम कब तक सहन कर पाते? उन्होंने बताया था कि करीब पिछले 1 या 1.5 साल में विपक्षी गठबंधन के वरिष्ठ नेताओं की कोई बैठक भी आयोजित नहीं हुई है।

संतोष ने कहा था कि यह गरीबों के कल्याण के लिए घातक था। इसलिए 'हम' द्वारा विपक्षी महागठबंधन में कमेटी गठित करने की मांग करने की मांग भी की जा रही थी। लेकिन विपक्षी महागठबंधन में हमारी हमारी मांगों को लगातार नजर अंदाज किया गया। इसके बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने विपक्षी महागठबंधन से अलग होने का निर्णय लिया। उस दौरान संतोष सुमन ने बिहार में 'हम' के नेतृत्व में तीसरे मोर्चे के गठन के संकेत भी दिये थे। याद रहे सीएम नीतीश कुमार द्वारा टेलिफोन से बातचीत कर जीतन राम मांझी का हालचाल पूछे जाने के बाद से ही 'हम' की एनडीए में जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं। कि मांझी नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के साथ जा सकते हैं और बिहार में एनडीए का घटक दल बन सकते हैं।

Next Story