Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हेल्थ सेंटर समेत सभी अहम संस्थानों को 24 घंटे देंगे बिजली, कर्मचारी के बीमार होने पर मिले सहयोग: सीएमडी

बिहार में कोरोना संकट के बीच सभी कोविड अस्पतालों, हेल्थ सेंटर समेत सभी महत्वपूर्ण संस्थानों को 24 घंटे बिजली आपूर्ति होगी। बीएसपीएचसीएल ने कोरोना से उत्पन्न स्थितियों की समीक्षा करते वक्त ये निर्देश दिये।

All important institutions, including the health center, will get 24-hour power supply Coronavirus latest news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस (Corona virus) से लगातार स्थितियां बिगड़ रही हैं। इसी को लेकर कोरोना काल (Corona era) में बिहार के हेल्थ सेंटर (Health Center of Bihar), कोविड अस्पताल (Covid Hospital of Bihar), ऑक्सीजन गैस प्लांट (Oxygen gas plant), रिर्फिंलग सेंटर (Refilling center), वैक्सीनेशन सेंटर (Vaccination Center) समेत सभी अहम संस्थानों को 24 घंटे बिजली आपूर्ति (Power supply) सुनिश्चित की जाएगी। कोई भी दिक्कत आने पर सिर्फ 15 मिनट के अंदर बिजली बहाल करने को कहा गया है। ऊर्जा सचिव सह बिहार राज्य पावर र्होंल्डग कंपनी लिमिटेड (बीएसपीएचसीएल) के सीएमडी संजीव हंस ने सोमवार को बिजली कंपनियों के पदाधिकारियों के साथ बैठक में कोरोना से उत्पन्न स्थितियों की समीक्षा बैठक करते हुए ये अहम निर्देश दिये।

सीएमडी संजीव हंस ने कहा कि इस सभी अहम संस्थानों को निर्बाध बिजली आपूर्ति के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करें कि यदि किसी कोविड अस्पताल या हेल्थ सेंटर में बिजली आपूर्ति में दिक्कत उत्पन्न होती है तो उसे 15 मिनट के अंदर दुरुस्त कर दिया जाए। यह भी निर्देश दिया गया है कि अगर किसी ऑक्सीजन प्लांट के लिए नया बिजली कनेक्शन चाहिए तो उसे शीर्ष प्राथमिकता के आधार पर मुहैया कराया जाना चाहिए।

बिजली कर्मी भी फ्रंटलाइन वॉरियर्स के तौर पर कर रहे हैं कार्य

सीएमडी संजीव हंस ने कहा कि कोरोना से उत्पन्न चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों के बीच बिजली कर्मी भी फ्रंटलाइन कोरोना वारियर्स के तौर पर कार्य कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के खतरे के बाद भी बिजली कर्मी फील्ड में जा रहे हैं। साथ ही बिजली आपूर्ति में व्याप्त बाधाओं को दूर कर रहे हैं। इस वजह से राज्य के 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी बिजली कर्मियों का कोरोना टीकाकरण सुनिश्चित कराएं। इसके अलावा अगर किसी बिजली कर्मी या उनके किसी परिवारिक सदस्य को कोरोना पॉजिटिव होने की खबर आती है तो उन्हें जरूरी चिकित्सकीय सलाह एवं सहायता हासिल करने में मदद करें। इसके लिए मुख्यालय के अधिकारियों के साथ-साथ जिला प्रशासन और जिले के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में रहें और प्रभावी से को-आर्डिनेशन स्थापित करते रहें।

Next Story