Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जातीय जनगणना के पक्ष में हैं सभी दल, निर्णय लेंगे पीएम मोदी, निजीकरण पर CM नीतीश ने कही ये बात

सीएम नीतीश कुमार जतीय जनगणना के मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी से बातचीत कर बिहार लौट आए। पटना में सीएम नीतीश ने पत्रकारों से बात करते वक्त बताया कि वर्तमान में जातीय जनगणना की जरूरत इसलिए पड़ रही है। इस दौरान सीएम ने केंद्र सरकार द्वारा एयरपोर्ट व सड़कों के निजीकरण को लेकर भी प्रतिक्रिया दी।

After meeting PM Narendra Modi CM Nitish Kumar says all parties are in favor of caste census bihar latest news
X

पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत करते बिहार के सीएम नीतीश कुमार।

सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने बीते दिन जातीय जनगणना के मुद्दे (caste census issues) को लेकर बिहार के प्रतिनिधिमंडल के साथ पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात (Meeting with PM Narendra Modi) की। वहीं सीएम नीतीश कुमार मंगलवार को बिहार की राजधानी पटना (Patna) वापस लौट आए। पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) पर पत्रकारों से बात करते वक्त सीएम ने कहा कि जातीय जनगणना को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी से हुई मुलाकात अच्छी रही है। अब इसको लेकर पीएम मोदी को ही निर्णय लेना है। पीएम मोदी के निर्णय को देखने के बाद ही इस पर आगे कोई बात सामने आएगी। उनके फैसले का इंतजार है। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी को जाति आधारित जनगणना से होने वाले लाभ भी बताए गए हैं। वहीं सीएम ने कहा कि बिहार के सभी सियासी दल की जातीय जनगणना को लेकर एक राय है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि 1931 में हुई जातीय जनगणना के आधार पर ही हम आज तक चलते आ रहे हैं। पर अब काफी कुछ परिवर्तन हो गया है। इस वजह से यह मांग उठ रही है। यदि केंद्र सरकार कोई निर्णय नहीं ले पाती है तो वो बाद का मसला है। पर यह पूरे देश की मांग है। वहीं सीएम नीतीश ने कहा कि जनगणना तो होने ही जा रही है। इसलिए निर्णय लिए जाने में अधिक वक्त नहीं लगना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी जनगणना को लेकर कार्य शुरू नहीं हुआ है। जब यह कार्य शुरू होगा, उसके ही पहले ही कुछ निर्णय लिया जाएगा।

आपको बता दें कि सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की 10 पार्टियों के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने 23 अगस्त को दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। इसके बाद सीएम नीतीश ने बताया कि पीएम मोदी ने हमारी सभी बातों को ध्यान से सुना। सभी ने जातीय जनगणना के पक्ष में एक-एक बात कही। पीएम मोदी ने हमारी बात को नकारा नहीं है। हमने पीएम मोदी से कहा है कि इस पर आप विचार करके इस पर निर्णय लें। पीएम से हुई मुलाकात के बाद बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी खुश दिखाई दिए। दोनों ने ही कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी ने जातीय जनगणना को लेकर उनकी बातों को गंभीरता से सुना है।

इस दौरान सीएम नीतीश कुमार से पत्रकारों ने केंद्र सरकार द्वारा एयरपोर्ट और सड़कों के निजीकरण को लेकर भी सवाल पूछे। इस पर सीएम नीतीश कुमार ने जवाब देने हुए कि पटना एयरपोर्ट के विस्तार को लेकर हम लोगों ने हर तरह का सहयोग किया है।

Next Story