Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बाढ़ प्रभावित परिवारों को सरकार देगी 6-6 हजार रुपये, फसल बर्बाद होने पर भी मिलेगी मदद

बिहार में बाढ़ग्रस्त इलाकों के प्रत्येक प्रभावित परिवार को सरकार की ओर से छह-छह हजार रुपये दिए जाएंगे। साथ ही, बाढ़ के कारण जिनका कच्चा-पक्का मकान क्षतिग्रस्त हो गया है, या जिनकी फसल बर्बाद हुई है, सरकार उनकी भी मदद करेगी। आपदा प्रबंधन विभाग ने जिलों को अविलंब प्रभावितों की सूची तैयार करने के लिए कहा है।

bihar will give Rs. 6-6 thousand rupees to flood affected families of 10 districts help will be given in case of crop failure
X
बिहार बाढ़ का मंजर

बिहार में अभी 10 जिले- सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, खगड़िया, पूर्वी व पश्चिमी चम्पारण बाढ़ से प्रभावित बताये जाते हैं। इन जिलों में अभी करीब 6.36 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित है। इन प्रभावितों को सहायता देने के लिए आपदा प्रबंधन ने लोगों की पहचान कर उनकी सूची बनाने का निर्देश जिलों को दिया है। विभाग ने कहा है कि बाढ़ग्रस्त इलाके के सभी परिवारों को सहाय्य अनुदान यानी जीआर मद में 6 हजार रुपए दिए जाने हैं। इसके लिए प्रभावित परिवारों की सूची तैयार की जाए। सूची तैयार करते समय प्रभावितों का नाम-पता के साथ ही बैंक खाता भी लिया जाएगा। प्रभावितों को छह हजार नकदी सीधे बैंक खातों में हस्तांतरित होगी ताकि कोई बिचौलिया बीच मे न आये।

बाढ़ग्रस्त इलाके में हुए अन्य नुकसान में भी लोगों को सरकार सहायता देगी। फसल क्षति से लेकर मकान और पशु नुकसान में भी सहायता का प्रावधान है। जिलों को कहा गया है कि वह क्षतिग्रस्त मकानों के साथ ही फसल नुकसान का भी ब्यौरा तैयार करें।

फसल नुकसान का विवरण कृषि विभाग के माध्यम से तैयार होगा। विभाग ने यथासंभव प्रभावितों की सूची बनाने के लिए कहा है ताकि लोगों को जल्द से जल्द सहायता राशि दी जा सके। वहीं बाढ़ में जिनका गाय, भैंस, बकरी से लेकर मुर्गा का भी नुकसान हुआ है तो सरकार उन्हें भी सहायता देगी। कपड़ा व बर्तन के नुकसान होने पर भी सभी परिवारों को सहायता देने का प्रावधान है।

नुकसान होने पर सरकार से 6000 नकदी हरेक परिवार को, 1800 कपड़ा मद में, 2000 बर्तन के लिए, 6800 प्रति हेक्टेयर फसल, 30 हजार प्रति गाय, भैंस के लिए, 3 हजार प्रति बकरी, भेड़, सुअर, 25 हजार प्रति घोड़ा पर, 50 रुपये प्रति मुर्गा, अधिकतम 5 हजार, 95100 कच्चा-पक्का मकान नुकसान में, 5200 पक्का मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त में, 3200 कच्चा मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त में, 4100 झोपड़ी के पूर्ण नुकसान होने पर, 2100 जानवर के शेड नुकसान मद में सहायता मिलेगी।

Next Story