Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

''पीरियड्स में बाल नहीं धोना चाहिए'', जानें पीरियड्स से जुड़े कुछ ऐसे ही मिथक और उनकी सच्चाई

पीरियड्स से जुड़े कई सारे मिथक है, जिनकी सच्चाई के बारे में ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं है। पीरियड्स यानि मासिक धर्म से जुड़ी कई सारी ऐसी बातें हैं, जो हमें पुराने लोगों से सुनने को मिलती हैं। कुछ लोग उसको मान लेते हैं तो कुछ लोग उसका विरोध करते हुए उन बातों को नजरअंदाज कर देते हैं।

पीरियड्स से जुड़े कई सारे मिथक है, जिनकी सच्चाई के बारे में ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं है। पीरियड्स यानि मासिक धर्म से जुड़ी कई सारी ऐसी बातें हैं, जो हमें पुराने लोगों से सुनने को मिलती हैं। कुछ लोग उसको मान लेते हैं तो कुछ लोग उसका विरोध करते हुए उन बातों को नजरअंदाज कर देते हैं।

ऐसे में आज हम आपको पीरियड्स से जुड़ी कुछ ऐसी बातों को बताने जा रहे हैं, जो असल में कोई मायने नहीं रखती हैं। पीरियड्स से जुड़े कई सारे मिथक फैले हुए हैं, जानें उनके बारे में पूरी सच्चाई।

यह भी पढ़ें: बारिश के मौसम में भूलकर भी न खाएं पालक और दही, रखें इन बातों का ध्यान

पीरियड्स से जुड़े मिथक और उनकी सच्चाई

मिथक- पीरियड्स 28 दिन के बाद होता है।

सच- ऐसा नहीं है हर लड़की या महिला का पीरियड्स साइकिल अलग-अलग दिन का होता है।

मिथक- पीरियड्स के दिनों में बाल नहीं धोना चाहिए।

सच- पीरियड्स के दौरान बाल धोने में कोई दिक्कत नहीं है।

मिथक- पीरियड्स में ब्लीडिंग के कारण कमजोरी आती है।

सच- पीरियड्स में ब्लीडिंग होने से कमजोरी नहीं आती है। अगर पहले से फिट एंड फाइन हैं तो पीरियड्स के दिनों में आपको कोई दिक्कत नहीं होगी।

मिथक- पीरियड्स का रक्त गंदा होता है

सच- ऐसा कुछ भी नहीं है। पीरियड्स का ब्लड भी सामान्य रक्त ही होता है।

यह भी पढ़ें: एड्स होने के कारण और लक्षण, जानें किन कारणों से शरीर में आता है एचआईवी वायरस

मिथक- पीरियड्स होने से पहले कुछ लक्षण नजर आते हैं।

सच- ऐसा कुछ नहीं है पीरियड्स आने से पहले कोई लक्षण नहीं दिखता है।

Next Story
Top