logo
Breaking

करें नियमित योगासन, पाएं स्वस्थ-निरोग जीवन

जानिए कुछ सरल योगासनों के बारे में

करें नियमित योगासन, पाएं स्वस्थ-निरोग जीवन
योगासन को अपनी दिनचर्या में शामिल कर आप शारीरिक ही नहीं मानसिक तौर पर भी स्वस्थ और ऊर्जावान बनी रह सकती हैं। साथ ही ऐसी कई बीमारियों से भी निजात पा सकती हैं, जो अस्त-व्यस्त जीवनशैली के कारण हो जाती हैं। जानिए कुछ सरल योगासनों के बारे में।
घर-बाहर दोनों जिम्मेदारियों को निभाते हुए ज्यादातर महिलाओं के पास खुद के लिए इतना समय भी नहीं बचता है कि वे अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान दे सकें। इसकी वजह से आजकल बहुत-सी महिलाएं किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त हैं। लेकिन अगर थोड़ा सा समय अपने लिए निकाला जाए और योग को अपनी दिनचर्या में शामिल किया जाए, तो बहुत-सी परेशानियां दूर हो सकती हैं। योग के नियमित अभ्यास से आप न सिर्फ स्वस्थ बनी रहेंगी, बल्कि पूरे दिन तरोताजा और ऊर्जावान भी महसूस करेंगी।
हलासन
हलासन के नियमित अभ्यास से आप जीवनशैली से जुड़ी कई बीमारियों जैसे, डायबिटीज, मोटापा, बीपी, कब्ज, पेट की परेशानी, मासिक धर्म संबंधी परेशानियों से बची रहती हैं। इतना ही नहीं, इस आसन को रेग्युलर करने से बुढ़ापे में भी हमारी रीढ़ की हड्डी (बैक बोन) का लचीलापन बना रहता है। इससे कमर या कूल्हे में दर्द की शिकायत नहीं होती है। इसे करने के लिए जमीन पर दरी बिछा कर पीठ के बल सीधा लेट जाएं। अपने दोनों हाथों को शरीर के बगल में नीचे दरी पर रखें। दोनों पैरों को आपस में सटा लें। अब अपने दोनों पैरों को धीरे से जमीन से ऊपर उठाएं। इसके साथ ही, नितंब को भी धीरे से जमीन से ऊपर उठाएं। अब अपने दोनों हाथों से कमर को सहारा देते हुए धीरे-धीरे दोनों पैरों को सिर के पीछे ले जाएं और उसे जमीन पर टिका दें। ध्यान रहे, आपके पैर घुटनों के सीध में होने चाहिए और आपके दोनों हाथ नितंब के अगल-बगल सीधी अवस्था में दरी पर होने चाहिए। थोड़ी देर तक इस स्थिति में रहने के बाद वापस सामान्य स्थिति में आ जाएं।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, योग के अन्य आसान के बारे में -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top