Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

World AIDS Day 2021: शारीरिक संबंध बनाते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां वरना आपके बच्चों तक भुगतना पड़ेगा

World AIDS Day 2021: हर साल 1 दिसंबर को लोगों को एड्स (HIV) के प्रति जागरूक करने के लिए वर्ल्ड एड्स डे (World AIDS Day) मनाया जाता है। मगर इसके बाद भी लोग छोटी-छोटी लापरवाही कर जाते हैं, जो उनके बच्चों को भी उम्र भर भुगतना पड़ सकता है।

World AIDS Day 2021: शारीरिक संबंध बनाते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां वरना आपके बच्चों तक भुगतना पड़ेगा
X

World AIDS Day 2021: शारीरिक संबंध बनाते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां वरना आपके बच्चों तक भुगतना पड़ेगा

World AIDS Day 2021: हर साल 1 दिसंबर को लोगों को एड्स (HIV) के प्रति जागरूक करने के लिए वर्ल्ड एड्स डे (World AIDS Day) मनाया जाता है। मगर इसके बाद भी लोग छोटी-छोटी लापरवाही कर जाते हैं, जो उनके बच्चों को भी उम्र भर भुगतना पड़ सकता है। ऐसे में किसी अजनबी से शारीरिक संबंध बनाते समय प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करें और समय-समय पर अपना एचआईवी टेस्ट कराते रहें।

कब हुई थी वर्ल्ड एड्स डे की शुरुआत

आज के समय में एड्स विश्व की गंभीर बीमारियों में से एक है। अभी तक इस बीमारी की कोई वैक्सीन नहीं बनी है और इसके मामले हर साल बढ़ जाते है। वैसे तो WHO ने साल 1987 में एडस दिवस को वैश्विक स्तर पर मनाने की शुरुआत की थी। मगर इसके बाद भी लोग जागरूक नहीं है।

कैसे फैलता है एड्स

- एचआईवी पॉजिटीव व्यक्ति या महिला से बिना किसी प्रोटेक्शन के शारीरिक संबंध बनाने की वजह से आप को भी एड्स की बीमारी हो सकती है। यह एड्स का एक प्रमुख कारण है।

-एचआईवी पॉजिटीव व्यक्ति को किस (Kiss) करने से भी आप इस बीमारी से संक्रमित हो सकते हैं।

- एचआईवी पॉजिटीव महिला के उसके शिशु में इस बीमारी का संक्रमण आता है।

-अगर आप किसी अजनबी व्यक्ति या महिला से बिना किसी प्रोटेक्शन के शारीरिक संबंध बनाते हैं, फिर घर पर अपनी पत्नी या पति के साथ ऐसा करते है तो उनके संक्रमित होने के चांस बढ़ जाते हैं। वहीं जब आपकी पत्नी प्रेग्नेंट होती है तो आपका बच्चा भी पॉजिटीव हो सकता है। इसलिए समय-समय पर जांच कराते रहें।

-एचआईवी पॉजिटीव व्यक्ति का ब्लड किसी दूसरे व्यक्ति को देने से

-इंजेक्शन की निडिल की वजह से ।

एड्स के लक्षण AIDS Symptoms

- मुंह में सफेद चकत्तेदार धब्बे उभरना

- लगातार खांसी आना

- जांघों और बगलों की लसिका ग्रंथियों की सूजन से गांठें पड़ना

- शरीर में खुजली और जलन होना

- निमोनिया

-बुखार

-थकावट

- बिना किसी वजह के अचानक से वजन कम होना।

Next Story