Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Winter Health Tips: जुकाम-खांसी और गले की खराश से हैं परेशान तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

Winter Health आयुर्वेद में कई ऐसे घरेलू नुस्खों (Home Remedies) के बारे में बताया गया है, जिनका उपयोग करके शरीर की छोटी-मोटी बीमारियों से राहत पा सकते हैं। इनमें इस्तेमाल की जाने वाली चीजें हमारी रसोई में आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं।

Winter Health Tips: जुकाम-खांसी और गले की खराश से हैं परेशान तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे
X

प्रतीकात्मक तस्वीर 

Winter Health Tips: सर्दी के मौसम में जुकाम-खांसी (Cold And Cough) और गले में खराश (Sore Throrat) होना आम बात है, लेकिन इन समस्याओं की वजह से आप कई दिनों तक परेशान रहते हैं। आप चाहें तो कुछ घरेलू नुस्खे (Home Remedies) ट्राई कर सकते हैं। इनसे आपको काफी राहत मिलेगी।

बलगम वाली खांसी के लिए

सेंधा नमक की लगभग 5 ग्राम डली को चिमटे से पकड़कर आग पर गैस पर या तवे पर अच्छी तरह गर्म कर लें। जब डली लाल होने लगे तब उसे तुरंत आधा कप पानी में डुबो कर निकाल लें। नमकीन गर्म पानी को एक ही बार में पी जाएं। आप नमक का पानी सोते समय लगातार दो-तीन दिन तक पी सकते हैं। इससे आपको खांसी विशेषकर बलगम वाली खांसी से राहत मिलती है। नमक की डली को सुखाकर रख लें। एक ही डली का आप बार-बार प्रयोग कर सकते हैं।

जब बैठ जाए गला: मुलहठी के चूर्ण को पान के पत्ते में रखकर खाने से बैठा हुआ गला ठीक हो जाता है। सोते समय एक ग्राम मुलहठी के चूर्ण को मुंह में रख कर कुछ देर चबाते रहें, फिर वैसे ही मुंह में रख कर सो जाएं। सुबह तक गला साफ हो जाएगा। गले के दर्द और सूजन में भी आराम मिलेगा।

सूखी खांसी के लिए: भोजन के बाद दोनों समय आधा चम्मच सौंफ चबाने से मुंह की कई बीमारियां दूर होती हैं। सूखी खांसी दूर होती है, बैठी हुई आवाज खुल जाती है, गले की खुश्की ठीक होती है और आवाज मधुर हो जाती है।

गले में खराश: सर्दी में अकसर गले में खराश हो जाती है। गले में खराश होने पर पिसी हुई अदरक में गुड़ और घी मिलाकर खाएं। गुड़ और घी के स्थान पर शहद का प्रयोग भी किया जा सकता है।

जुकाम के लिए : जुकाम में आप अदरक की चाय और तुलसी के पत्ते की चाय का सेवन दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप भाप ले सकते हैं। इससे आपको काफी आराम मिलेगा।

Next Story