logo
Breaking

जानिए क्यों करते हैं लोग सुसाइड

कई बार कुछ लोग इससे निराश होकर आत्महत्या कर भी लेते हैं।

जानिए क्यों करते हैं लोग सुसाइड

अकसर कहीं ना कहीं असफल होने पर हम कई बार इतने निराश हो जाते कि उस सदमें को बर्दाशत नहीं कर पाते और आत्महत्या का विचार हमारे मन में आने लगता है।

जैसे परिक्षा में फेल हो जाने पर या कम अंक आने पर भी हम आत्महत्या के बारे में विचार करने लगते हैं, कई बार कुछ लोग इससे निराश होकर आत्महत्या कर भी लेते हैं। वे सोचते हैं कि अब जीवन में कभी सफता नहीं हासिल कर पाएंगे।

जिसके बाद कुछ लोगों में निराशा, उदासी या अकेलापन महसूस होने लगता है और उनमें जीवन से मुक्ति पाने की भावना जागृत हो जाती है। अगर आपके मन में भी कोई ऐसा विचार आ रहा हो तो उसे किसी दोस्त के साथ शेयर कर सकते हैं इससे आपका मन हल्का हो जाएगा और हो सकता है आपके मन से ये विचार निकल जाए।

इसलिए आतें है मन में सुसाइड के विचार

* व्यापार या नौकरी में कोई घाटा होने पर भी लोग इसे बर्दाश्त नहीं कर पाते और आत्महत्या को अंतिम उपाय मान लेते हैं।

* प्यार में धोखा खाए लोगों के मन में आत्महत्या की भावना जागृत हो जाती है।

* परीक्षा में फेल हो जाने पर या कम अंक आने पर भी छात्र आत्महत्या करना चाहते हैं।

* किसी अपने की मौत या फिर उसके हमेशा के लिए इस दुनिया से चले जाने का दुख कुछ लोग बर्दाश्त नहीं कर पाते और उन्हें लगता है कि आत्महत्या ही एक मात्र उपाय है।

* किसी का रिश्ता टूटने पर या तलाक हो जाने पर भी आत्महत्या का विचार मन में उत्पन्न होने लगता है।

* रिश्तों में किसी प्रकार की समस्या होने पर कुछ लोग सामंजस्य नहीं बैठा पाते और आत्महत्या का मन बना लेते हैं।

* किसी प्रकार के दुर्व्यवहार होने पर लोगों अपनी बेइज्जती महसूस करने लगते हैं जिसके बाद आत्महत्या के बारे में सोचने लगते हैं।

Share it
Top