logo
Breaking

प्रेग्नेंसी में पपीता खाने से रहता है गर्भपात का खतरा, जानें और कौन से फल नहीं खाने चाहिए

गर्भवती महिला ज्यादा से ज्यादा फलों का सेवन करती है। लेकिन क्या आपको पता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सभी फलों का सेवन नहीं किया जा सकता। कुछ फलों को खाने से प्रेग्नेंसी में दिक्कत हो सकती है। कुछ फल ऐसे होते हैं, जिन्हें प्रेग्नेंसी में खाने से गर्भपात (मिसकैरेज) तक का खतरा पैदा हो सकता है।

प्रेग्नेंसी में पपीता खाने से रहता है गर्भपात का खतरा, जानें और कौन से फल नहीं खाने चाहिए

प्रेग्नेंसी (गर्भावस्था) में कुछ फलों को खाने से बचना चाहिए। कुछ फल ऐसे होते हैं, जिन्हें प्रेग्नेंसी में खाने से गर्भपात (मिसकैरेज) तक का खतरा पैदा हो सकता है। किसी भी महिला के लिए प्रेग्नेंसी का समय सबसे हसीन समय होता है। अगर बात करें पहली बार मां बनने की तो महिला के लिए यह अहसास और भी खास होता है।

ऐसा इसलिए क्योंकि एक महिला मां की तरफ अपना पहला कदम रखती है। प्रेग्नेंसी के दौरान हर महिला का खास ख्याल रखा जाता है, जिसे उसके गर्भ (पेट) में पल रहा बच्चा स्वस्थ हो।

यही वजह है कि गर्भवती महिला ज्यादा से ज्यादा फलों का सेवन करती है। लेकिन क्या आपको पता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सभी फलों का सेवन नहीं किया जा सकता। कुछ फलों को खाने से प्रेग्नेंसी में दिक्कत हो सकती है।

प्रेग्नेंसी में कौन से फल नहीं खाने चाहिए

पपीता- प्रेग्नेंसी में पपीता खाने से गर्भपात का खतरा बढ़ जाता है।

अंगूर- प्रेग्नेंसी के पहले तीन महीनों में अंगूर खाने से बचना चाहिए। अंगूर से शरीर का तापमान बढ़ता है, जो शरीर हानिकारक हो सकता है।

अनानास- प्रेग्नेंसी के दौरान अनानास खाने से यह गर्भाशय को नर्म बना देता है, जिससे दिक्कत हो सकती है।

संतरा- गर्भावस्था में संतरा जैसे खट्टे फल नहीं खाने चाहिए। प्रेग्नेंसी में खट्टे फल खाने से प्रिमेच्योर डिलीवरी के चांसेस बढ़ जाते हैं।

प्रेग्नेंसी में कौन से फल खाने चाहिए

केला, शरीफा, चीकू, तरबूज, आम, सेब, किवी, अमरूद इन फलों को प्रेग्नेंसी में खाने से कोई दिक्कत नहीं होती है। लेकिन फिर भी डॉक्टर से अपने डाइट चार्ट के बारे में राय जरूर लें।

Share it
Top