logo
Breaking

क्या है डेंगू की पहचान, जानिए बचाव के 10 तरीके

डेंगू का मच्छर दिन के उजाले में घरों के अंदर या बाहर काटता है, लेकिन अगर रात में रोशनी जल रही हो तब भी ये मच्छर काट सकते हैं।

क्या है डेंगू की पहचान, जानिए बचाव के 10 तरीके
नई दिल्ली. डेंगू के कारण मच्छरों द्वारा मानव शरीर में विषाणु पहुंचता हैं। डेंगू एक बीमारी हैं जो एडीज इजिप्टी मच्छरों के काटने से होता हैं। इस रोग में तेज बुखार के साथ शरीर के उभरे चकत्तों से खून रिसता हैं।
क्या है डेंगू की पहचान
डेंगू को ब्रेक बोन बुखार के नाम से भी जाना जाता है। डेंगू की पहचान प्रायः इन लक्षणों के आधार पर डाक्टर करते है, बहुत ज्यादा बुखार जिसका कोई अन्य स्थानीय कारण समझ नहीं आये, सारे शरीर पर चकते पड जाना, रक्त मे प्लेटलेटस की संख्या कम हो जाना।
बच्चो मे डेंगू के लक्षण साधारण सर्दी, बुखार तथा उल्टी आना हो सकते है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने डेंगू हैमरेज ज्वर के चार मापक बताए हैं-
  • बुखार, ब्लेडर की समस्या, लगातार सिरदर्द, चक्कर आना, भूख ना लगना
  • रक्त स्त्राव की प्रवृति (टोर्नक्विट परीक्षण सकारात्मक आना, खुद ब खुद छिल जाना, नाक, कान से, टीका लगाने के स्थान से खून रिसना, खूनी द्स्त लगना और खून की उल्टी आना)
  • खून मे प्लेटलेटस की संख्या कम होना।
  • प्लासमा रिसाव होने के साक्ष्य मिलना (हेमोट्रोक्रिट मे 20% से ज्यादा वृद्धि या हीमाट्रोक्रिट मे 20% से ज्यादा गिरावट)।

नीचे की स्लाइड्स में पढें, बचाव के दस तरीके -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -

Share it
Top