logo
Breaking

अगर आप भी हैं स्ट्रेस से परेशान, तो टेक्नो डिटॉक्स थेरेपी करें यूज

एक समय था जब बॉडी को हेल्दी बनाने के लिए डिटॉक्स थेरेपी को फॉलो किया जाता था। अब इसी तरह मेंटल फिटनेस, रिलैक्स रहने के लिए टेक्नो डिटॉक्स को इंपॉर्टेंस दी जा रही है। आप भी जानिए, कैसे कर सकते हैं टेक्नो डिटॉक्स और क्या हैं इसके फायदे?

अगर आप भी हैं स्ट्रेस से परेशान, तो टेक्नो डिटॉक्स थेरेपी करें यूज

इसमें कोई दो राय नहीं है कि टेक्नोलॉजी ने हमारी लाइफ को बहुत आसान कर दिया है, लेकिन इसके साथ ही एक नई समस्या ने जन्म लिया है, वह है टेक्नो एडिक्शन।

असल में फोन, इंटरनेट, सोशल साइट्स से हम इतने गहरे तक जुड़ गए हैं कि इनके बिना खुद को अधूरा महसूस करते हैं। जबकि सच्चाई यह है जब हम खुद को टेक्नो डिटॉक्स यानी टेक्नोलॉजी से कुछ समय के लिए दूर रखते हैं, तो रिलैक्स फील करते हैं।

बहुत हैं फायदे

1.आपके फोन में दिन भर मेल, नोटिफिकेशन आते रहते हैं। जिनमें से ज्यादातर मेल बेकार होती हैं, लेकिन आप इन्हें चेक जरूर करती हैं। इससे आपका समय खराब होता है। इसी तरह आप सोशल नेटवर्किंग साइट्स में भी अपना वक्त जाया करती हैं।

ऐसे में आपको यही नहीं पता चलता कि पूरे दिन की प्रोडक्टिविटी क्या रही है? लेकिन आप जैसे ही इंटरनेट से दूरी बनाती हैं, आपको खुद के लिए समय मिल जाता है। ऐसे में आपको क्रिएटिव वर्क करने के लिए समय मिलता है।

2.जैसे ही आप वर्चुअल वर्ल्ड या टेक्नोलॉजी से दूरी बनाती हैं, आप दोस्तों, परिवार के साथ समय बिताने को तरजीह देने लगती हैं। इस तरह आपको सच्ची खुशी मिलती है।

3.सोशल साइट्स पर तरह-तरह के डिस्कशन से आपको स्ट्रेस होता है। लेकिन जब आप टेक्नो डिटॉक्स होती हैं तो इन सभी बातों से दूर रहती हैं। इससे आपकी लाइफ में बेवजह का स्ट्रेस नहीं आता है।

ऐसे करें टेक्नो डिटॉक्स

टेक्नो डिटॉक्स करने के लिए आपको खुद को फोर्स करने की जरूरत नहीं है। इसके बजाय कुछ ट्रिक्स अपनाकर आप ईजिली टेक्नो डिटॉक्स कर सकती हैं-

1.जैसे कुछ देर के लिए अपने फोन को स्विच ऑफ कर दें। जब आप काम कर रही हैं, उस दौरान ऐसा करें। इस तरह आप खुद को मोबाइल से दूर भी फील नहीं करेंगी और बार-बार नोटिफिकेशंस चेक करने से भी बच जाएंगी।

2.जब खाना खाती हैं, उस दौरान भी अपना मोबाइल पूरी तरह स्विच ऑफ कर लें।

3.जब कभी परिवार या दोस्तों के साथ कहीं घूमने जाएं, वहां फोन को पूरी तरह बैन कर दें। मतलब यह कि जब बहुत जरूरी हो, तभी फोन चेक करें।

4.फोन का इस्तेमाल बार-बार करने के बजाय एक बार में ही पूरी तरह कर लें यानी इंटरनेट, मैसेज, कॉल ये सब एक ही समय में निपटा लें। इससे आपका कुछ निश्चित समय ही फोन में जाया होगा।

Share it
Top