Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रिसर्च में खुलासा, कितना खाना कूड़े में फेंक रहा है भारत

भारत में जहां लोगों की मौत का कारण भूख हैं, वहीं भारत में पैदा होने वाले फल, दूध और सब्जी में से आधा कूड़ेदान में चला जाता है।

रिसर्च में खुलासा, कितना खाना कूड़े में फेंक रहा है भारत

भारत में एक तरफ जहां लोगों की मौत का कारण भूख हैं, वहीं भारत में पैदा होने वाले फल, दूध और सब्जी में से आधा कूड़ेदान में चला जाता है।

भारत में लोगों द्वारा वेस्ट किए गए फल, दूध और सब्जी पर एक स्टडी सामने आई है। इसमें पाया गया कि जितना भारत में फल, दूध और सब्जी का प्रोडक्शन होता है, उसका 40-50% वेस्ट हो जाता है।

यह भी पढ़ें: रेसिपी: घर में ऐसे बनाएं पंजाबी ढाबे जैसा सरसों का साग

भारत में सबसे ज्यादा होता है दूध

दी एसोसिएटेड चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्र ऑफ इंडिया (एसोचैम) की तरफ से जारी की गई प्रेस रिलीज में यह बताया गया कि दुनिया में भारत सबसे ज्यादा मिल्क प्रड्यूस करता है और दूसरे नंबर पर फल और सब्जी। लेकिन भारती के प्रोडक्शन का आधा हिस्सा कूड़ेदान में जा रहा है।

स्टोरेज की कमी

एसोचैम के सेकेटरी जनरल डी. एस. रावत ने स्टडी के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, गुजरात और पंजाब में सबसे ज्यादा फल, दूध और सब्जी वेस्ट होते हैं। उन्होंने यह बात स्वीकारते हुए कहा कि कोल्ड स्टोरेज की कमी के कारण इतना ज्यादा वेस्टेज हो रही है।

यह भी पढ़ें: रेसिपी: घर में ऐसे बनाएं गुजराती डिश 'खांडवी'

रोज 3000 बच्चों की भूख से मौत

ग्लोबल हंगर इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक भूख के मामले में भारत 100वें स्थान पर है और 1992 की तुलना में हंगर ग्राफ कम हुआ है। इसके बावजूद 2015 में आई ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार भारत में तकरीबन 19 करोड़ लोग भूखे पेट सोते हैं। इतना ही नहीं हर दिन लगभग 3000 बच्चों की मौत भूख के कारण होती है।

Next Story
Top