Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेद की इन चीजों का करें इस्तेमाल

आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल इम्यूनिटी पावर बढ़ाने किया जा सकता है। ऐसे में घर पर ही आयुर्वेदिक वस्तुओं को मिलाकर दवाई और काढ़ा बना सकते हैं।

जानें कोरोना ट्रीटमेंट में कितनी इफेक्टिव है हर्ड इम्यूनिटी
X
कोरोना वायरस (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज। पूरी दुनिया कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का सामना कर रही है। इम्यूनिटी बढ़ाने कई तरह के प्रयोग लोग इन दिनों कर रहे हैं। आयुर्वेद में कई तरह की चीजें हैं, जिनका प्रयोग रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में किया जाता रहा है। इन औषधियों का प्रयोग कर देश के वैज्ञानिकों और चिकित्सकों द्वारा कई तरह की दवाइयां तैयार की गई हैं।

इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। डॉ. एसके अग्रवाल का कहना है, पूरी दुनिया कोरोना वायरस के संक्रमण से गुजर रही है। आधुनिकतम देश भी इसकी चपेट में हैं। भारत में आयुर्वेदिक औषधियों से इसका इलाज हो रहा है। ऐसे में यह कारगर साबित होगा। हम इनसे कोरोना वायरस के ठीक होने का दावा नहीं कर रहे हैं, लेकिन इनसे इम्यूनिटी पावर को बढ़ाया जा सकता है।

इन चीजों को करें शामिल

कालमेघ, वासक, तुलसी, हल्दी, गिलोय और नीम सहित अन्य आयुर्वेदिक औषधियों को मिलाकर बनाएं। पिछले छह माह में 11 राज्यों के 20 से अधिक शहरों के 5 वर्ष से 86 वर्ष की उम्र के 20 हजार से अधिक लोगों ने आजमाया है, जिसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है।

ले रहे लोगों का फीडबैक

जयेश मिश्रा अपना अनुभव बताते हुए कहते हैं, फरवरी में कोरोना होने के बाद वे मार्च में ठीक होकर घर लौट आए थे। आयुर्वेद में विश्वास होने के कारण इम्यूनिटी बढ़ाने इसका प्रयोग शुरु किया। परिवार में एक-दो अन्य सदस्य भी कोरोना की चपेट में आ गए थे। ठीक होने के बाद उन्होंने भी इसका सेवन किया। कालमेघ, वासक, तुलसी, हल्दी, गिलोय जैसी चीजें रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करती हैं।

और पढ़ें
Next Story