logo
Breaking

सिगरेट, बीड़ी और तंबाकू छोड़ने के लिए अपनाएं ये नुस्खें, जानिए क्या है ये तरीके

धूम्रपान छोड़ने के लिए इच्छाशक्ति के साथ अपनाए ये नुस्खें

सिगरेट, बीड़ी और तंबाकू छोड़ने के लिए अपनाएं ये नुस्खें, जानिए क्या है ये तरीके

नई दिल्ली. क्या आपने अंग्रेजी की एक कहावत सुनी है "ओल्ड हैबिट डाय हार्ड" यानी की पुरानी आदतें मुश्किल से जाती हैं। लेकिन इसका कतई यह मतलब नहीं है कि बुरी लत छोड़ी ही नहीं जा सकती। सिगरेट, बीड़ी या तंबाकू छोड़ने के लिए मजबूत इरादे और सख्त कदम उठाने पड़ सकते हैं। आज हम आपको कुछ ऎसी चीजों के बारे में बता रहे है जो हमारी रसोई की मसालेदानी में मौजूद होती हैं। पूरी इच्छाशक्ति के साथ अगर आप इन उपायों को आजमाने की कोशिश करेंगे तो नतीजा अच्छा ही होगा।

1. जब भी धूम्रपान की तलब हो तो बारीक सौंफ के साथ मिश्री मिलाकर धीरे-धीरे चूसें, नरम हो जाने पर चबाकर खाएं।

2. अजवाइन, नींबू का रस और काला नमक दो दिन तक भीगने दें। इसे छाया में सुखाकर रख लें और धूम्रपान की बजाय इसे चूसें।

3. छोटी हरड़ को नींबू के रस और सेंधा नमक के घोल में दो दिन तक फूलने दें। इसे निकालकर छाया में सुखाकर शीशी में भर लें। स्मोकिंग का मन करे तो इसे चूसें और नरम हो जाने पर चबाकर खा लें।

4. धीरे-धीरे तंबाकू खाने की आदत को कम करें क्योंकि रक्त में निकोटिन के स्तर को धीरे- धीरे ही कम किया जाना चाहिए। इसके लिए निकोटिन च्यूइंगम एक बेहतर विकल्प हो सकती है। जब भी सिगरेट या तंबाकू आदि की तलब हो तो इलायची या मुलैठी का प्रयोग कर सकते हैं। मुलैठी को नेचुरल च्यूंइगम माना जाता है। यह आंतों में जाकर रक्त में मिलती है तो फेफड़ों से बलगम को निकालकर उन्हें खोलने का काम करती है। इससे सांस संबंधी परेशानियां भी दूर होती हैं।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, स्‍मोकिंग, तंबाकू छोड़ने के तीन और नुस्खें-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top