Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ब्रिटेन जाने वालों को करना होगा 14 दिन का क्वारंटाइन, नियम तोड़ने पर देने होंगे 1000 ब्रिटिश पाउंड

जब तक कोरोना (Coronavirus) का पूरी तरह से खात्मा नहीं हो जाता तब तक काफी बदलाव देखने को मिल सकते हैं। इसी बीच ब्रिटेन ने ऐसे वक्त में यात्रियों के आने जाने के लिए रास्ते तो खोल दिए हैं लेकिन इसके साथ ही कुछ सख्त नियम भी लागू किए हैं। ऐसे में टूरिस्ट को धक्का भी लग सकता है।

ब्रिटेन जाने वालों को करना होगा 14 दिन का क्वारींटीन, कोरोना बचाव नियम तोड़ने पर देने होंगे 1000 ब्रिटिश पाउंड
X

कोरोना (Coronavirus) से बचाव के हर देश नए नए कदम उठा रहा है। जब तक कोरोना का पूरी तरह से खात्मा नहीं हो जाता तब तक काफी बदलाव देखने को मिल सकते हैं। इसी बीच ब्रिटेन ने ऐसे वक्त में यात्रियों के आने जाने के लिए रास्ते तो खोल दिए हैं लेकिन इसके साथ ही कुछ सख्त नियम भी लागू किए हैं। ऐसे में टूरिस्ट को धक्का भी लग सकता है (New Guideline)।

ये हैं नियम

दो हफ्ते के लिए क्वारंटाइन रहेंगे

ब्रिटेन में कोरोना के कारण हालातों को देखते हुए सभी यात्रियों को ऑनलाइन फॉर्म फिल करना होगा। जिसमें यात्रियों को कॉन्टैक्ट नम्बर और यात्रा की जानकारी देनी होगी। इसके साथ ही वो इस फॉर्म से उस जगह का भी पता देंगे जहां वे दो हफ्ते के लिए क्वारींटीन रहेंगे।

नियमों का सख्ती से पालन करना होगा

कोरोना से बचाव के नियमों को तोड़ने पर 1000 ब्रिटिश पाउंड का जुर्माना भरना होगा। वहीं पुलिस को नियम का पालन सुनिश्चित करने के लिए उचित बल का इस्तेमाल करने की परमीशन दी गई है। क्वारंटाइन में रहने वाले यात्री नियमों का सख्ती से पालन करना होगा

सरकार से कदमों पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया

ब्रिटिश एयरवेज ने मंत्रियों को कार्रवाई पूर्व पत्र (प्री ऐक्शन लेटर) लिखने के बाद विधिक कार्यवाही शुरू कर दी है। वहीं ब्रिटिश एयरवेज ने रयान एयर और इजीजेट के साथ मिलकर एक संयुक्त बयान जारी किया, जिसमें उसने सरकार से कदमों पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया।

Also Read: घर बैठे बैठे आप इन फिल्मों के जरिए कर सकते हैं भारत दर्शन

पर्यटन उद्योग में काफी परेशानी आ सकती है

ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल का कहना है कि 14 दिन के क्वारंटाइऩ का नियम विज्ञान द्वारा समर्थित और जीवन बचाने के लिए जरूरी है। वहीं भारतीय मूल की मंत्री का कहना है कि इन नियमें के चलते पर्यटन उद्योग में काफी परेशानी आ सकती है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story