Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना महामारी के बाद मूड को रिफ्रेश करने के लिए इन जगहों पर जाना है बेस्ट ऑप्शन

कोरोना वायरस (Coronavirus) ने टूरिस्ट को पूरी तरह से तबाह कर दिया है। बीते लॉकडाउन की सख्ती के बाद लोगों को इस लॉकडाउन में ढील मिल गई है। जिसके बाद से कुछ लोग अपना माइंड फ्रेश करने की बाहर घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं ताकि वो मेंटल स्ट्रेस से बाहर आ सकें। वहीं अगर आप भी घूमने जाने का सोच रहें हैं तो हम आपको कुछ जगह सजेस्ट करने जा रहे हैं। जहां आप 3-4 दिन गुजार कर अपना मूड रिफ्रेश कर सकते हैं।

कोरोना महामारी के बाद मूड को रिफ्रेश करने के लिए इन जगहों पर जाना है बेस्ट ऑप्शन
X

कोरोना वायरस (Coronavirus) के आने के बाद से काफी कुछ बदल गया है। इतना ही नहीं इसका बुरा असर दुनिया भर की इकोनॉमी पर भी पड़ा है। शायद ही किसी ने सोचा होगा कि वो अपनी मस्ती मौज को छोड़कर खुद को घरों में कैद कर लेंगे। इस खतरनाक वायरस ने लोगों की लाइफ बेरंग कर दी है। जहां लोग इन दिनों गर्मियां की छुट्टी मनाने देश विदेश जाते थे। वहीं लोग कोरोना के डर से घर से बाहर निकलने में भी सोच रहे हैं।

यहां कुछ दिन रुक कर अपना माइंड फ्रेश कर सकते हैं

कोरोना वायरस (Coronavirus) ने टूरिस्ट को पूरी तरह से तबाह कर दिया है। बीते लॉकडाउन की सख्ती के बाद लोगों को इस लॉकडाउन में ढील मिल गई है। जिसके बाद से कुछ लोग अपना माइंड फ्रेश करने की बाहर घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं ताकि वो मेंटल स्ट्रेस से बाहर आ सकें। वहीं अगर आप भी घूमने जाने का सोच रहें हैं तो हम आपको कुछ जगह सजेस्ट करने जा रहे हैं। जहां आप 3-4 दिन गुजार कर अपना मूड रिफ्रेश कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं उन जगह के बारे में जहां कुछ दिन रुक कर अपना माइंड फ्रेश कर सकते हैं।

मसूरी

दिल्ली से 300 किमी की दूरी पर मसूरी जाना भी बेस्ट ऑप्शन है। 6500 फुट से ज्यादा ऊंचाई वाले मसूरी में ठंडी हवा, साफ आसमान और खिलखिलाती धूप का मेल-जोल आपको काफी अच्छा फील करवाएगा। दिल्ली से देहरादून जाने के लिए कई ट्रेन चलती हैं, फिर वहां से मसूरी 1 घंटा 20 मिनट की दूरी पर है।

मसूरी में घूमने की जगह

- मसूरी लेक

- कैंपटी फॉल्स

- के देवभूमि वैक्स म्यूजियम

- धनौल्टी

- सोहम हेरिटेज एंड आर्ट सेंटर

- जार्ज एवरेस्ट के घर

- एडवेंचर पार्क, क्राइस्ट चर्च

- भट्टा फॉल्स, मॉस फॉल्स

- गन हिल

- लाल टिब्बा

- कैमल बैक रोड

- जाबरखेत नेचर रिजर्व

शिमला

यहां का ठंडा मौसम और हरे भरे देवदार आपको दिवाना बना देगी। यह 7000 फीट की ऊपर की ऊंचाई पर है। जिस कारण यहां गर्मियों में भी बहुत ही ठंडा मौसम होता है। यहां जाने के लिए पहले आप ट्रेन से चंडीगढ़ जा सकते हैं और फिर उसके बाद शिमला जाने के लिए टैक्सी और बस लें।

शिमला में घूमने की जगह

- क्राइस्ट चर्च

- जाखू हिल

- जाखू मंदिर

- राष्ट्रपति निवास

- काली बारी मंदिर

- मॉल रोड, द रिज

- टाउन हॉल

- गैटी थियेटर

- बैंटोनी कैसल

- द ग्लेन

- गॉर्टन कैसल

- अन्नडेल

- आर्मी हेरिटेज संग्रहालय

- जॉनी का वैक्स संग्रहालय

- शिमला विरासत संग्रहालय

- हिमाचल राज्य संग्रहालय

- समर हिल

Also Read: Dead Sea ऐसा समुद्र है जहां कोई नहीं डूब सकता, जानें इसकी और भी कई खूबियां

रानी खेत

यहां आपको बर्फ से ढके हुए पहाढ़ देखने को मिल सकते हैं। यहां का शांत माहौल मानों आपको दिल लुभा लेगा। यह 6100 फीट की ऊंचाई पर है। यहां जाने के लिए काठगोदाम से कई बसें और टैक्सी चलती हैं। काठगोदाम आप दिल्ली से आसानी से बस या ट्रेन से जा सकते हैं।

रानी खेत में घूमने की जगह

- रानी झील

- रानीखेत गोल्फ कोर्स

- असियाना पार्क

- मनकामेश्वर मंदिर

- हैदाखान बाबा मंदिर

- बिंसर महादेव मंदिर

- भालू बांध

- तारखेत

- उपट कालिका मंदिर

Next Story