logo
Breaking

शरीर के इन हिस्सों को 2 बार से ज्यादा न लगाएं हाथ, हो जाएंगी गंभीर बीमारियां

शरीर के कुछ हिस्सें ऐसे हैं, जिन्हें बार-बार छूने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है। शरीर के इन हिस्सों को जरूरत पड़ने पर टच करना चाहिए। उन्हें बार-बार हाथ नहीं लगाना चाहिए।

शरीर के इन हिस्सों को 2 बार से ज्यादा न लगाएं हाथ, हो जाएंगी गंभीर बीमारियां

शरीर के कुछ हिस्सें ऐसे हैं, जिन्हें बार-बार छूने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है। शरीर के इन हिस्सों को जरूरत पड़ने पर टच करना चाहिए। उन्हें बार-बार हाथ नहीं लगाना चाहिए।

एक्सपर्ट की मानें तो शरीर के इन हिस्सों को बार-बार छूने से कुछ समस्याएं हो सकती हैं। जानिए ऐसी कौन सी जगहें हैं, जिन्हें बार-बार हाथ नहीं लगाना चाहिए।

कान

कानों में बार-बार हाथ नहीं लगाना चाहिए। इतना ही नहीं कान में उंगली या कोई अन्य नुकीली चीज भी नहीं डालनी चाहिए। केक स्कूल ऑफ मेडिसिन ऑफ यूएससी के हेड ऐंड नेक सर्जरी के प्रमुख और प्रो, जॉन के. निपार्को ने बताया कि कान में उंगली या कुछ चीज डालने से कान के अंदर मौजूद झिल्ली के फटने का डर रहता है।

चेहरा

चेहरे को साफ करने या क्रीम वगैरह लगाने के अलावा चेहरे को टच नहीं करना चाहिए। त्वचा रोग सलाहकार अदनान नासिर का कहना है कि जरूरी कामों के लिए ही चेहरे पर अपने हाथ का इस्तेमाल करें। इसके अलावा अपने पंजे को चेहरे से दूर ही रखना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप हाथ किसी बैक्टीरिया वाली जगह पर रखते हैं और फिर उसी हाथ से चेहरे को टच करते हैं तो इससे बीमार होने और थकान बढ़ने के चांसेस रहते हैं।

बैक (बट)

बैक (बट) पर पोंछने और धोने के अलावा हाथ नहीं लगाना चाहिए। हार्बरव्यू मेडिकल सेंटर के आफ्टर केयर क्लिनिक के मेडिकल डायरेक्टर एम.डी., पीएचडी जेयर्ड डब्ल्यू. क्लेन का कहना है कि गुदा में काफी बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकते हैं। अगर आपने किसी कारण से बट टच किया है तो अच्छी तरह से हाथ साफ करें।

यह भी पढ़ें: इतने महीने बाद ही करना चाहिए दूसरा बच्चा, जानें पहले या बाद करने से क्या पड़ता है असर

आंख

आंख में कुछ चले जाने पर धोने के अलावा कभी भी हाथ नहीं लगाना चाहिए या उसे मलना नहीं चाहिए। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपके हाथों के माध्यम से आसानी से रोगाणु आंखों में प्रवेश कर जाएंगे, जिससे आंखों में इंफेक्शन हो सकता है।

मुंह

हाल ही में यूके में एक रिसर्च में पाया गया कि लोग 1 घंटे में औसतन 23.6 बार अपनी उंगलिया मुंह पर या उसके आसपास फेरते हैं। इसके अलावा जब वह व्यस्त होते हैं तो वह ऐसा 6.3 बार करते हैं। बता दें कि एक स्टडी में यह खुलासा हुआ है कि इस तरह मुंह के आसपास या मुंह में उंगली ले जाने से शरीर के अंदर एक-तिहाई रोगाणु पहुंचते हैं, जो सेहत के लिए हानिकारक होता है।

नाक

इंफेक्शन कंट्रोल और हॉस्पिटल एपिडेमायॉलजी जर्नल में 2006 में प्रकाशित कान, नाक और गले के मरीजों की स्टडी में पाया गया था कि जो लोग अपनी नाक में उंगली डालते हैं, उनके शरीर में स्टैफाइलोकॉकस ऑरस नाम के बैक्टीरिया के जाने की सबसे ज्यादा संभावना होती है। बता दें कि यह एक खतरनाक बैक्टीरिया है, जिसके कारण शरीर में कई तरह के इंफेक्शंस होते हैं।

नाखूनों के नीचे की स्किन

नाखूनों की नीचे की स्किन में भी कई तरह के बैक्टीरिया होते हैं। ब्रिटिश त्वचा रोग केंद्र के त्वचा रोग सलाहकार डेविड डे बर्कर के अनुसार नाखून छोटे होने चाहिए, जिससे त्वचा के नीचे बैक्टीरिया के होने का खतरा कम हो। साथ ही उन्होंने बताया कि नाखूनों से गंदगी हटाने के लिए सिर्फ नेल ब्रश का ही इस्तेमाल करें।

Share it
Top