Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान! घर की ये चीजें आपको कर सकती हैं ज्यादा बीमार, रखें इन बातों का ध्यान

वैसे तो सभी लोग घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई करते हैं लेकिन इसके बाद भी ज्यादातर बीमारियां घर से ही पनपती हैं। रोजमर्रा में इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ होम एप्लायंसेज ऐसे हैं, जिनकी अगर सही तरीके से साफ-सफाई न की जाए तो वह आपको और बीमार कर सकते हैं।

सावधान! घर की ये चीजें आपको कर सकती हैं ज्यादा बीमार, रखें इन बातों का ध्यान
X

वैसे तो सभी लोग घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई करते हैं लेकिन इसके बाद भी ज्यादातर बीमारियां घर से ही पनपती हैं। रोजमर्रा में इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ होम एप्लायंसेज ऐसे हैं, जिनकी अगर सही तरीके से साफ-सफाई न की जाए तो वह आपको और बीमार कर सकते हैं।

हाल ही में एप्लायंसेज वेबसाइट की तरफ से कराए गए सर्वे में यह बात सामने आई है कि 71 प्रतिशत लोग ऐसे हैं तो घर में यूज होने वाले होम एप्लायंसेज की सफाई की तरफ ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं।

यह भी पढ़ें: गर्भवती महिलाएं इन प्रेग्नेंसी एप्स की मदद से ले सकती हैं पूरी जानकारी

साल भर में सफाई के मुताबिक सर्वे के नतीजे

  • वॉशिंग मशीन (कपड़े धोने की मशीन)- एक बार सफाई
  • डिश वॉसर (बर्तन धोने की मशीन)- तीन बार सफाई
  • माइक्रोवेव ओवन- दो बार सफाई
  • फ्रिज- आठ बार सफाई

साल में इन एप्लायंसेज की जाने वाली सफाई बहुत कम है और कम सफाई के कारण कीटाणु ज्यादा पनपते हैं। इनसे खतरनाक बीमारी होने के चांसेस रहते हैं।

फ्रिज

फ्रिज की सही तरह से सफाई न होने पर ई.कोली, साल्मोनेला और लिस्टरिया जैसे खतरनाक कीटाणु पनपने के चांसेस रहते हैं। इन कीटाणुओं की वजह से खाना खराब होने और पेट से जुड़ी दिक्कतें होने का खतरा ज्यादा रहता है।

वॉशिंग मशीन

ज्यादातर घरों में कपड़े की साफ-सफाई के लिए वॉशिंग मशीन का इस्तेमाल होता है, लेकिन 44 प्रतिशत वॉशिंग मशीन में खतरनाक बैक्टीरिया पनपने के चांसेस रहते हैं। इसकी वजह से स्किन से जुड़ी समस्याएं, जैसे स्किन में जलन, फोड़े-फुंसी हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें: व्हाइट ब्रेड या ब्राउन ब्रेड, जानें कौन सी ब्रेड सेहत के लिए होती है फायदेमंद

डिश वॉशर

वैसे तो कम घरों में डिश वॉशर का इस्तेमाल होता है लेकिन कुछ घरों में बर्तन धोने के लिए डिश वॉशर का यूज करते हैं। डिश वॉशर हाई टेम्परेचर इस्तेमाल होने वाली मशीन है, लेकिन फिर भी इसमें स्यूडोमोनास और एसिनेटोबैक्टर जैसे खतरनाक बैक्टीरिया पाए जाते हैं। इसकी वजह से फंगल इंफेक्शन होने और इम्यून सिस्टम कमजोर होने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

माइक्रोवेव

माइक्रोवेव में कीटाणु फैलने के कारण चर्म रोग और पेट दर्द जैसी समस्या हो सकती है।

सफाई करते समय रखें इन बातों का ध्यान

  • गुनगुने पानी से सफाई करें।
  • बैक्टीरिया या कीटाणु जल्दी मर जाएंगे।
  • नियमित रूप से सफाई करते रहें।
  • एप्लांयसेज की हर हिस्से की अच्छे से सफाई करें।
  • ध्यान रहे कि एप्लांयसेज में नमी न बनी रहे।
  • सफाई के बाद अच्छे से सुखा लें।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story