logo
Breaking

मीठा खाने से दांत ही खराब नहीं होते, इस गंभीर बीमारी का भी रहता है खतरा

क्या आपको कभी ऐसा फील हुआ है कि कोई मीठी चीज खाने के बाद आलस आ जाए या सिर्फ आराम करने का मन करे। अगर ऐसा है तो यह उस मीठी डिश के कारण है।

मीठा खाने से दांत ही खराब नहीं होते, इस गंभीर बीमारी का भी रहता है खतरा

क्या आपको कभी ऐसा फील हुआ है कि कोई मीठी चीज खाने के बाद आलस आ जाए या सिर्फ आराम करने का मन करे। अगर ऐसा है तो यह उस मीठी डिश के कारण है।

हाल में हुई स्टडी के मुताबिक मीठा खाने कार्य करने की क्षमता पर असर पड़ता है। मीठा खाने के बाद शरीर पर चीनी यानी शुगर क्रश दिखने लगता है, जिसका असर दिमाग पर पड़ता है।

ऐसे निकला निष्कर्ष

इस स्टडी के लिए कुछ लोगों को शामिल किया गया। इनमें कुछ लोगों को ग्लूकोज या टेबल शुगर और कुछ लोगों को फ्रकटोज यानी फ्रूट शुगर या आर्टिफिशल स्वीटनर सूक्रालोजल का सेवन करने के लिए कहा गया। इसके बाद ग्लूकोज या टेबल शुगर खाने वाले लोगों का ध्यान और प्रतिक्रिया का समय घट गया।

न्यूजीलैंड के यूनिवर्सिटी ऑफ ओटागो के लेक्चरर में रिसर्चर ने कहा कि इस स्टडी का उद्देश्य यह बताना है कि मीठा खाने के बाद हमारे मस्तिष्क के काम करने की प्रवृत्ति पर असर पड़ता है।

Share it
Top