Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बच्चों के दिमाग को कमजोर कर देता है स्मार्टफोन का इस्तेमाल, शोध में हुआ खुलासा

स्मार्टफोन का उपयोग बच्चों के सामाजिक-भावनात्मक विकास के लिए नुकसानदेह हो सकता है।

बच्चों के दिमाग को कमजोर कर देता है स्मार्टफोन का इस्तेमाल, शोध में हुआ खुलासा
X
नई दिल्ली. एक रिसर्च से पता चला है कि स्मार्टफोन का इस्तेमाल बच्चों के विकास के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। इस खबर के बाद अब उन माता-पिता को सावधान हो जाने की जरूरत है जो अपने बच्चों का ध्यान भटकाने के लिए या उन्हें शांत करने के लिए टैबलेट, स्मार्टफोन या ई-बुक का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि ऐसा करना उनके बच्चों के सामाजिक-भावनात्मक विकास के लिए नुकसानदेह हो सकता है।
स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है महिलाओं को घूरना: रिसर्च

अनुसंधानकर्ताओं ने कई प्रकार के इंटरेक्टिव मीडिया की समीक्षा की और शैक्षणिक उपकरणों के तौर पर उनके इस्तेमाल और विकास पर उनकी संभावित नकारात्मक भूमिका को लेकर महत्वपूर्ण सवाल खड़े किए है। जिसने सभी अभिभावकों के होश उड़ा दिए हैं।

अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि मोबाइल उपकरण का इस्तेमाल बच्चों को शैक्षणिक लाभ दे सकता है लेकिन यदि उन्हें शांत करने के लिए इनका मुख्य रूप से इस्तेमाल किया जाए तो यह बच्चों के सामाजिक-भावनात्मक विकास के लिए हानिकारक हो सकता है।

उन्होंने कहा, ‘‘यदि ये उपकरण छोटे बच्चों को शांत करने और उनका ध्यान भटकाने के लिए मुख्य रूप से इस्तेमाल किए जाने लगे तो क्या वे बच्चे आत्म नियमन के अपने आंतरिक तंत्र को विकसित कर पाएंगे?’’

बोस्टन यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिसिन के जेनी रादेस्की ने कहा, ‘‘इस बात पर काफी अध्ययन हो चुका है कि टेलीविजन देखने का समय बढाने से बच्चे की भाषायी एवं सामाजिक कुशलता में कमी आती है। इसी तरह मोबाइल मीडिया के इस्तेमाल से भी मानव-मानव की प्रत्यक्ष बातचीत के समय में कमी आती है।’’ यह अनुसंधान पीडियाट्रिक्स पत्रिका में छपा था।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, हर महीने करवाना चाहिए बच्चों का हेल्थ चेकअप -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और
पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story