Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

स्मार्टफोन कर रहा है लोगों का दिमाग खराब: रिसर्च

टीनएजर में दूसरी डिवाइसेज के अधिक इस्तेमाल से दिमागी बीमारी का खतरा अधिक बढ़ जाता है।

स्मार्टफोन कर रहा है लोगों का दिमाग खराब: रिसर्च

टीनएजर में स्मार्टफोन और दूसरी डिवाइसेज के अधिक इस्तेमाल से दिमागी बीमारी का खतरा अधिक बढ़ जाता है।

आने वाले समय में टीनएज के लोगों में स्मार्टफोन के इस्तेमाल से मानसिक बीमारी बढ़ भी सकती है। हाल ही में चाइल्ड डेवलपमेंट रिपोर्ट के एक शोध में इस बात का पता लगाया गया है।
अमेरिका के उत्तरी कैरोलिना में डरहम के ड्यूक विश्वविद्यालय के इस शोध की प्रमुख लेखक मेडेलीन जॉर्ज के मुताबिक, 'टीनेजर्स में टेक्नॉलजी का इस्तेमाल कम करने वाले दिनों की अपेक्षा ज्यादा इस्तेमाल करने के दिनों में व्यवहार की समस्याएं बढ़ जाती हैं।'
यह रिसर्च 'चाइल्ड डिवेलपमेंट' मैगजीन में पब्लिश हुई है। इस रिपोर्ट में टीनएजर्स के मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े लक्षणों को देखा गया है। इस शोध में 151 टीनएजर्स के हर रोज के डिजिटल टेक्नॉलजी में स्मार्टफोन के इस्तेमाल का सर्वे किया गया है।
इसमें उनके इंटरनेट इस्तेमाल के बारे में बताया गया है। दिनभर में 3 बार इसे आजमां कर देखा गया है। तकरीबन 18 माह के बाद उनके मानसिक स्वास्थ्य के लक्षणों का मूल्यांकन किया गया।
इसमें 11 साल से 15 साल के बीच के टीनएजर्स शामिल हैं। जिन्होनें अपने करीब 2.3 घंटे एक दिन डिजिटल टेक्नोलॉजी पर खर्च किए।
शोधकर्ताओं ने पाया कि इंटरनेट इस्तेमाल के दौरान टीनएजर, झूठ बोलना, लड़ाई और दूसरी व्यवहारिक समस्याओं से लिप्त दिखते हैं।
हालांकि, शोधकर्ताओं ने पाया है कि टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल के दौरान टीनएजर चिंतामुक्त पाए गए हैं।
(Source- DC)
Next Story
Top