Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शहनाज हुसैन के इन टिप्स से मानसून में ऐसे करें पैरों की देखभाल

मानसून को हर कोई बहुत एंज्वॉय करता है। लेकिन इस सीजन में स्किन से जुड़ी कई तरह की प्रॉब्लम भी फेस करनी पड़ती हैं। ऐसे में आप फेस स्किन की केयर तो करती हैं, लेकिन पैरों की केयर पर ध्यान नहीं देती हैं। जबकि इनकी केयर भी जरूरी है, क्योंकि मानसून में पैरों में फंगल इंफेक्शन, बैड स्मेल जैसी समस्या हो सकती है।

शहनाज हुसैन के इन टिप्स से मानसून में ऐसे करें पैरों की देखभाल
X

बारिश के मौसम में पैरों की प्रॉपर केयर न की जाए तो कई तरह की स्किन प्रॉब्लम फेस करनी पड़ सकती हैं। ऐसे में कुछ घरेलू नुस्खे और जरूरी टिप्स बहुत काम आ सकते हैं। किस तरहे मानसून में पैरों की केयर कर सकते हैं इस बारे में कोस्मेटोलॉजिस्ट शहनाज हुसैन पूरी जानकारी दे रही हैं।

मानसून को हर कोई बहुत एंज्वॉय करता है। लेकिन इस सीजन में स्किन से जुड़ी कई तरह की प्रॉब्लम भी फेस करनी पड़ती हैं।

ऐसे में आप फेस स्किन की केयर तो करती हैं, लेकिन पैरों की केयर पर ध्यान नहीं देती हैं। जबकि इनकी केयर भी जरूरी है, क्योंकि मानसून में पैरों में फंगल इंफेक्शन, बैड स्मेल जैसी समस्या हो सकती है।

यह भी पढ़ें: किसी के बालों का रंग काला तो किसी का होता है भूरा, जानें बालों के रंगों के पीछे की पूरी सच्चाई

इस तरह की समस्या न हो, इसके लिए होम रेमेडीज का यूज करने के साथ कुछ जरूरी बातों का ख्याल रखना चाहिए।

होम रेमेडीज

उपाय 1: पैरों को रिलैक्स करने के लिए एक बड़े बर्तन या बाल्टी में गुनगुने पानी में थोड़ा सा नमक डालें। इस पानी में कुछ देर के लिए पैरों को डुबोएं। इससे पैर रिलैक्स होते हैं और साफ भी रहते हैं।

उपाय 2: बाल्टी में 1/4 गर्म पानी, 1/2 कप खुरखुरा नमक (सी सॉल्ट), 10 बूंद नीबू रस या संतरे का एसेंस डालिए। अगर पैरों से ज्यादा पसीना आता है, तो कुछ बूंदें टी-ऑयल की भी मिला सकती हैं। इस पानी में 10-15 मिनट के लिए पैरों को रखें। इससे पैरों से बदबू आने की समस्या कम हो जाएगी।

उपाय 3: 3 चम्मच गुलाब जल, 2 चम्मच नीबू रस और 1 चम्मच ग्लिसरीन का मिला लें। इसे आधा घंटा पैरों पर लगाए रखें। सूखने पर पैरों को धो लें। इससे पैर क्लीन हो जाएंगे।

उपाय 4: पैरों की ड्रायनेस कम करने के लिए बाल्टी के 1/4 हिस्से तक ठंडा पानी भरिए। इसमें 2 चम्मच शहद, 1 चम्मच हर्बल शैंपू, 1 चम्मच बादाम तेल मिला लें। इस पानी में 20 मिनट के पैर भिगोकर रखें। इसके बाद ताजे पानी से पैरों को धो लें।

उपाय 5: पैरों की मसाज के लिए 100 मिली. लीटर जैतून का तेल, 2 बूंद नीलगिरी का तेल, 2 चम्मच रोजमेरी तेल, 3 चम्मच खस या गुलाब का तेल मिला लें। इस मिश्रण को एयरटाइट जार में डाल लें। इस तेल से रोजाना पैरों की मसाज करें। इससे पैरों को ठंडक मिलेगी, साथ ही स्किन भी मॉयश्चराइज होगी।

यह भी पढ़ें: वैक्सिंग के बाद खराब हुई सुमोना की स्किन, सुमोना ने फॉलोअर्स को दिए वैक्सिंग टिप्स

रखें ध्यान

  • जिनके पैरों में बहुत ज्यादा पसीना आता है, उन्हें अपने पैरों की साफ-सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए।
  • नहाते वक्त पैरों को अच्छी तरह सफाई करें।
  • ध्यान रखें कि शरीर पोंछते वक्त पैरों को भी अच्छी तरह पोंछ लें, जिससे पैरों पर पानी न लगा रहे।
  • इसके अलावा पैरों की अंगुलियों के बीच टैलकम पावडर लगाएं।
  • अगर आप कवर्ड शूज पहनती हैं तो जूतों के अंदर भी टैलकम पावडर छिड़क सकती हैं।
  • मानसून में कवर्ड शूज पहनने से कुछ लोगों को बहुत पसीना आता है, जिससे पैरों में बैक्टीरियल इंफेक्शन हो सकता है।
  • कोशिश करें कि इस मौसम में स्लीपर, खुले सैंडिल कैरी करें। इससे पांवों को हमेशा हवा मिलेगी, जिससे पैरों में पसीना नहीं आएगा।
  • बारिश के मौसम में पैरों के गीले रहने की वजह से एथलीट फुट नाम की बीमारी हो सकती है, इसे इग्नोर किया जाए तो दाद, खाज, खुजली जैसी परेशानियां हो सकती हैं।
  • अगर पैरों की अंगुलियों में तेज खारिश हो, तो तुरंत स्किन स्पेशलिस्ट से कॉन्टेक्ट करें।
  • इस मौसम में पैरों की स्पेशल केयर करें। सप्ताह में एक बार पार्लर जाकर या घर पर पेडिक्योर कराएं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story