Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Healthy Relationship Tips : अपने लाइफ पार्टनर के साथ खुश रहना चाहते हैं तो अपनाएं ये सीक्रेट

पत्नी की मदद के बिना पति शायद ही कोई काम कर पाते हैं। वे अनजाने में ही सही, लेकिन हर छोटे से छोटे काम के लिए अपनी पत्नी पर निर्भर रहते हैं।हम आपको बताते हैं कि अपनी लाइफ पार्टनर (Life Partner) के लिए आप क्या कुछ खास कर सकते हैं, किस तरह उसकी सराहना कर अपने मेरिड लाइफ (Married Life) में प्यार (Love) को बढ़ा सकते हैं।

अपने पार्टनर के साथ खुश रहना चाहते हैं तो अपनाएं ये सीक्रेट
X

अपने पार्टनर के साथ खुश रहना चाहते हैं तो अपनाएं ये सीक्रेट 

Healthy Relationship Tips: पत्नी की मदद के बिना पति शायद ही कोई काम कर पाते हैं। वे अनजाने में ही सही, लेकिन हर छोटे से छोटे काम के लिए अपनी पत्नी पर निर्भर रहते हैं। इसके बावजूद देखा जाता है कि पति अपनी पत्नी को उतना महत्व नहीं देते हैं, जितने कि वो हकदार होती है। हालांकि आज के समय में पति (Husband) की सोच और व्यवहार में काफी बदलाव आया है, फिर भी पत्नी के लिए काफी कुछ अभी भी किया जाना बाकी है। हम आपको बताते हैं कि अपनी लाइफ पार्टनर (Life Partner) के लिए आप क्या कुछ खास कर सकते हैं, किस तरह उनकी तारीफ कर अपने मेरिड लाइफ (Married Life) में प्यार (Love) को बढ़ा सकते हैं।

1-पत्नी की परेशानियों को समझें

आमतौर पर महिलाओं से उम्मीद की जाती है कि वे सबके दिल की बात समझेंगी, सबकी समस्याओं का हल तलाशेंगी। खासकर पत्नी की भूमिका में उससे यह उम्मीद और ज्यादा बढ़ जाती है। सवाल यह है कि पति सिर्फ पत्नी से ही यह उम्मीद क्यों करे, उसकी भी तो अपनी पत्नी के प्रति कोई जिम्मेदारी है। घर-परिवार, रिश्तों-नातों या नौकरी की उलझनों से जूझते हुई अपनी पत्नी की परेशानियों को आप भी कभी समझने की कोशिश करें। जब पत्नी घर, दफ्तर की जिम्मेदारियां उठाते-उठाते थक जाए, उसका हाथ थामकर कहें 'मैं तुम्हारी उलझन, परेशानी समझता हूं।' उसके साथ बैठें, बातचीत करें। उसे यह जताएं कि आपके जीवन में उसका बहुत महत्व है। घर-परिवार को जोड़े और संभाले रखने की उसकी भूमिका की खुलकर सराहना करें। यकीन मानिए, आपके साथ और समझ के ऐसे चंद पल आपकी पत्नी का हौसला बढ़ाएंगे, एक संबल देंगे। निश्चित ही आप दोनों इससे गहरे से जुड़ेंगे, दांपत्य में प्यार बढ़ेगा।

2-अपनी पत्नी को करें सपोर्ट

कहने की जरूरत नहीं कि हमारे समाज का ढांचा ऐसा है कि आज भी हर महिला खुद को दोयम दर्जे का समझती है। अपने पति के कामकाज के चलते वह खुद को इग्नोर करती रहती है। यही नहीं वह अपनी हर भूमिका को अच्छी तरह निभाती है, परिवार के सभी सदस्यों का पूरा ध्यान रखती है, जिसकी वजह से वह खुद को ही भूल जाती है। ऐसे में पति की जिम्मेदारी बनती है, वह ना सिर्फ पत्नी की सराहना करे बल्कि उसको खुद को दोयम दर्जे पर रखने की सोच से बाहर निकाले। पति का इस तरह का इमोशनल सपोर्ट पत्नी को बहुत हिम्मत देगा। यूं भी तारीफ का मतलब सिर्फ गुण गिनाना नहीं होता, यह बताना भी होता है कि आपको उसकी फिक्र है। उसका साथ और सहयोग आपके जीवन की बुनियाद है, उसकी सलामती की आपको चिंता है।

3-मन की सुनें

ताउम्र साथ जीने-मरने की कसमें खाने वाले पति-पत्नी के बीच भी बहुत कुछ अनकहा-अनसुना रह जाता है। जिम्मेदारियों का बोझ कई बातों और जज्बातों को मन के कोने में दबा देता है। महिलाओं के साथ ऐसा ज्यादा होता है। दरसअल, वे अपने हर इमोशन को साझा नहीं कर पाती हैं। ऐसे में जीवनसंगिनी से खुलकर बात करने की जरूरत होती है। वे क्या कहना या करना चाहती हैं, उसे समझने की कोशिश करें। उनके मन की भी सुनें। पत्नी के विचारों को यूं मान देना सही मायने में घर-संसार में उसकी भूमिका की सराहना करना है। इसीलिए ना तो अपने मन की कहना भूलें और ना ही पत्नी के मन की सुनना। कनेक्टिविटी पति-पत्नी के दिल के तार को जोड़ती है। दांपत्य जीवन को प्रगाढ़ बनाती है।

4- हमेशा प्यार जताने की कोशिश करें

पत्नी की तारीफ करना, मैरिड लाइफ के हर फ्रंट पर उसके रोल को नोटिस करना भी प्यार जताने का एक तरीका है। साथ ही अपनी लाइफ पार्टनर की जरूरतों और जज्बातों को भी जानें-समझें। उसे समय-समय पर यह भरोसा दिलाएं कि किसी भी परिस्थिति में वह अकेली नहीं है। उसके साथ सही ढंग से संवाद रखते हुए यह जरूर जताएं कि आप हर मोर्चे पर उसके साथ खड़े रहेंगे। साथ देने का ऐसा एप्रीसिएशन भरा व्यवहार आपके दांपत्य जीवन को मजबूती देगा। साथ ही प्रेम और सराहना से सराबोर शब्द आपकी गहरी इमोशनल बॉन्डिंग का आधार बनेंगे। इस तरह आपका तारीफ करना आपके रिश्ते के लिए एक जादू का काम कर सकती है। उम्रभर के बंधन में सिर्फ अपेक्षाएं ही ना रखें, पत्नी को अहमियत देने, उसकी सराहना का भाव भी बेहद जरूरी है।

Next Story