Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सीजनल डिजीज ''कंजंक्टिवाइटिस'': न हो जाए इंफेक्शन

सिजनल डिजीज कंजंक्टिवाइटिस न हो जाए इंफेक्शन

सीजनल डिजीज
नई दिल्ली. कंजंक्टिवाइटिस मानसून में होने वाला एक कॉमन आइज इंफेक्शन है। इसमें आंखें लाल हो जाती हैं और उनसे पानी जैसा पदार्थ निकलने लगता है। इस इंफेक्शन में इलाज से ज्यादा केयर की जरूरत होती है। कंजंक्टिवाइटिस के इंफेक्शन से बचने के उपाय, जानिए।
कंजंक्टिवाइटिस को ‘पिंक फ्लू’ या ‘आई फ्लू’ भी कहा जाता है। मानसून में यह वायरल इंफेक्शन बड़ी तेजी से फैलता है। इसमें आंखें लाल हो जाती हैं और पानी निकलने लगता है, इस वजह से कभी-कभी दर्द और खुजली भी होने लगती है। ये इंफेक्शन अमूमन बैक्टीरिया या वायरस से होता है। अधिकतर मामलों में यह गंभीर समस्या के रूप में नहीं होता है। लेकिन इसके प्रति लापरवाही बरतना उचित नहीं है।

लक्षण
- इस इंफेक्शन की शुरुआत पहले एक आंख से होती है, जो बाद में दूसरी आंख में भी फैल जाता है।
- आंखों का रंग लाल या गुलाबी हो जाता है। साथ ही आंखों में जलन और दर्द महसूस होता है।
- आंखों की पलकें सूज जाती हैं और अकसर सुबह उठने पर आपस में किसी गोंदनुमा स्राव की वजह से चिपक जाती हैं।
उपचार
- इसका कोई उपचार न करना भी एक तरह का इलाज है, क्योंकि हल्का इंफेक्शन अपने आप 1-2 हफ्ते में ठीक हो जाता है।
- आंखों की अंदर से धुलाई की सलाह नहीं दी जाती है, क्योंकि उस तरह आंसू में पाए जाने वाले प्रोटीन जो कीटाणुओं से लड़ने की क्षमता रखते हैं, वह भी बह जाते हैं।
- ल्यूब्रिकेंट, आई ड्रॉप और एंटीबायोटिक आई ड्रॉप से आंखों में हो रही जलन, दर्द और सूजन से निजात पाई जा सकती है।
रोकथाम
- आंखों को न तो छुएं और न ही रगड़ें। अगर आंखों में खुजली और जलन होती है तो टिश्यू की सहायता से उससे हो रहे स्राव को पोंछें और उस टिश्यू को फेंककर साबुन से हाथ साफ कर लें।
- घर का हर सदस्य ऐसे समय में अलग तौलिया इस्तेमाल करे।
- कॉन्टेक्ट लेंस का प्रयोग न करें।
- गर्ल्स अपने आई प्रोडक्ट जैसे मसकारा और आईलाइनर किसी से शेयर न करें।
- स्कूल, ऑफिस और अन्य भीड़ वाली जगह से दूर रहें जब तक कि स्राव पूरी तरह बंद न हो जाए।
- गॉगल्स लगाकर ही घर से बाहर जाएं।
- स्वीमिंग न करें।
नीचे की स्लाइड्स में जानिए, इन परिस्तिथियों में डॉक्टर से लें सलाह -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
feedback - lifestyle@haribhoomi.com
Next Story
Top