Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मिस्त्र और टर्की में हुए हमलों के बाद भारत से भी डर लगने लगा है रुस

बीते 31 अक्टूबर को सिनाई पेनिनसुएला में रशियन यात्री विमान में हुए धमाके के बाद रूस के राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन ने मिस्त्र जाने वाली फ्लाइट रद्द कर दी थीं।

मिस्त्र और टर्की में हुए हमलों के बाद भारत से भी डर लगने लगा है रुस
X
नई दिल्ली. मिस्त्र और टर्की में हुए हमलों के बाद अब रूस को भारत से भी डर लगने लगा है। रूस ने अपने नागरिकों के लिए भारत को भी असुरिक्षत माना है। रूस ने पर्यटन यात्रा के लिए सुरक्षित माने जाने वाले देशों की लिस्ट से भारत को भी बाहर कर दिया है। इस फैसले से (रूस की मुद्रा) को लेकर पहले से ही घाटे में चल रहा गोवा के पर्यटन उद्योग को बड़ा झटका लगेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गोवा में रशियन सूचना केंद्र ने रिवाइज अडवाइजरी जारी कर मिस्त्र और टर्की को ब्लैक लिस्ट किए जाने की बात कही थी।
बीते 31 अक्टूबर को सिनाई पेनिनसुएला में रशियन यात्री विमान में हुए धमाके के बाद रूस के राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन ने मिस्त्र जाने वाली फ्लाइट रद्द कर दी थीं। उन्होंने टर्की द्वारा मिसाइल से हमला कर रूसी लड़ाकू विमान गिराए जाने के बाद छुट्टियां मनाने गए अपने सभी नागरिकों को टर्की से वापस बुला लिया था। इस लिस्ट में जिन देशों को यात्रा के लिए सुरक्षित माना गया है, उनमें क्यूबा, दक्षिण वेतनाम और दक्षिणी चीन के नाम शामिल हैं। रशियन सूचना केंद्र के प्रमुख एकातेरिना बेल्याकोवा ने बताया कि रूसी नागरिकों की पर्यटन यात्रा के लिए भारत और गोवा को अच्छा नहीं माना गया।
यह फैसला रूसी पर्यटकों के लिहाज से तो उत्साहहीन है ही, गोवा की अर्थव्यवस्था के लिए भी सही नहीं है। हालांकि इसके पीछे एक कारण रूस की गिरती अर्थ व्यवस्था को भी बताया गया जिसकी वजह से रूसी पर्यटक घूमने के लिए सस्ती जगहें देख रहे हैं। बेल्याकोवा के मुताबिक साल 2002 से पर्यटकोंं की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हुई है। साल 2013 में गोवा घूमने वाले पर्यटकों की संख्या ढाई लाख थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story