logo
Breaking

जिंदगी का मकसद आपको बचा सकता है इस बीमारी से

अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि यह बड़े पैमाने पर लोगों पर लागू हो सकता है।

जिंदगी का मकसद आपको बचा सकता है इस बीमारी से

अगर आपने अपनी जिंदगी को कोई उद्देश्य या मकसद दिया है तो यह आपको एक बीमारी से बचा सकती है।

वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि जिन उम्रदराज लोगों के पास जीवन जीने का एक मकसद होता है, उनमें नींद से संबंधी विकार कम होते हैं।

अमेरिका के नॉर्थवेस्टर्न विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि वह उम्रदराज लोग जिनके पास जिंदगी जीने का मकसद होता है, उनमें नींद संबंधी विकार (स्लीप अपनोइया) से पीड़ित होने के 63 फीसदी कम संभावना होती है।

यह एक ऐसा विकार है जिसमें सोने के दौरान सांस लेने में समस्या होती है।

हालांकि इस अध्ययन में हिस्सा लेने वाले ज्यादातर उम्रदराज लोग थे लेकिन अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि यह बड़े पैमाने पर लोगों पर लागू हो सकता है।

यह अध्ययन स्लीप साइंस एंड प्रैक्टिस जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

Share it
Top