Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

करियर में ब्रेक के बाद महिलाएं ऐसे करें एक नई शुरूआत

अकसर महिलाएं शादी या बच्चे होने के बाद करियर से ब्रेक ले लेती हैं। फिर एक अंतराल के बाद करियर में वापसी करने की सोचती हैं। लेकिन फिर से करियर या जॉब पर फोकस, पहली जैसी वर्किंग स्टाइल वह हासिल नहीं कर पाती हैं। जबकि ब्रेक के दौरान ही कुछ बातों पर ध्यान दिया जाए तो महिलाओं की राह आसान हो सकती है।

करियर में ब्रेक के बाद महिलाएं ऐसे करें एक नई शुरूआत
X

कुछ समय पहले हुए एक सर्वे के मुताबिक देश में 72 फीसदी महिलाएं, मां बनने के बाद नौकरी से ब्रेक ले लेती हैं। इस अध्ययन के मुताबिक मात्र 15 फीसदी महिलाएं ही नौकरी में सेवा-निवृत्ति की उम्र तक पहुंच पाती हैं यानी घरेलू जिम्मेदारियों के चलते बहुत कम महिलाएं अपनी नौकरी को कायम रख पाती हैं। कुछ महिलाएं ब्रेक के बाद वापसी भी करती हैं लेकिन तकरीबन 50 प्रतिशत महिलाएं मातृत्व की जिम्मेदारियां निभाने के लिए अपने काम-काजी जीवन पर हमेशा के लिए विराम लगा देती हैं। उच्च शिक्षा के बढ़ते आंकड़ों के बावजूद महिलाओं का काम-काजी मोर्चे पर यूं पीछे छूट जाना हमारे सामाजिक परिवेश का कटु सच है। लेकिन इस फ्रंट पर डटे रहने के लिए कोशिश सबसे पहले महिलाओं को ही करनी होगी। ऐसे में ब्रेक के दौरान कुछ ऐसे पहलुओं पर ध्यान देने की जरूरत होती है, जो फिर एक बार करियर को गति देने में मददगार साबित हो सकते हैं।

तैयारी रहे जारी

शादी कर घर बसाने के बाद या मां बनने के बाद महिलाओं के करियर में अकसर ब्रेक आ जाता है। ऐसे में जरूरी है कि उस समय भी सेकेंड ईनिंग की तैयारी जारी रखी जाए। यह तैयारी मानसिक और पारिवारिक दोनों ही फ्रंट्स पर होनी चाहिए। खुद आपको तो पूरी हिम्मत के साथ काम पर लौटने के लिए तैयार होना चाहिए, साथ ही परिवार को भी इसके लिए तैयार करना चाहिए।

अपनों का सहयोग लें

अब वो जमाना नहीं रहा, जब सब कुछ महिलाओं को ही संभालना पड़ता था। ऐसे में आप भी अपनों का सहयोग लेने से ना चूकें। इस बात को लेकर संजीदा रहें कि आपको करियर के फ्रंट पर फिर लौटना है। कभी-भी इस बात की हिचक न रखें कि घर के दूसरे सदस्यों से मदद कैसे ले सकती हैं? इस सोच को बदलें, आपको घर के बाहर भी अपनी मौजूदगी दर्ज करवानी है तो ऐसे में अपनों का साथ सबसे बड़ा सहारा बनेगा।

अपडेट रहना भी जरूरी

कई बार हालात ऐसे भी बन जाते हैं कि कुछ समय के लिए महिलाएं घर तक ही सिमट जाती हैं। जिम्मेदारियों की भागम-भाग करियर की दौड़ में फिर शामिल होने के सारे रास्ते ही बंद कर देती है। ऐसे में ब्रेक के बाद काम-काजी मोर्चे पर फिर से लौटना आसान नहीं होता। ऐसे में जरूरी है कि समय निकालकर वर्किंग फील्ड में आ रहे बदलावों को समझें। आप अपनी फील्ड या जिस फील्ड में जाना चाहती हैं, उससे जुड़ी जानकारियां जुटाती रहें। इसके लिए किताबें पढ़ें, इंटरनेट पर सर्च करें और अपने सेक्टर के लोगों से जुड़ाव बनाए रखें। साथ ही टेक्नीकली भी अपडेट रहें। ब्रेक के बाद वापसी के लिए ब्रेक के दौरान रखी गई यह सक्रियता काफी मददगार साबित होती है।

अपराधबोध ना पालें

अपनी जिम्मेदारियों को समय देने के बाद भी महिलाएं जब दोबारा काम पर लौटने का सोचती हैं तो उन्हें अपराध बोध घेरने लगता है। खासकर मां बनने के बाद खुद के सपनों को पूरा करने की दौड़ में हर स्त्री के कदम गति पकड़ते हुए ठिठकते हैं। अपनी आकांक्षाओं को पूरा करते हुए उनका मन कई बार हिचकता है। लेकिन ऐसे समय पर व्यावहारिक सोच रखना जरूरी है। याद रहे कि जॉब पर लौटना भर, आपको, बच्चों और परिवार से दूर नहीं कर सकता। टाइम मैनेजमेंट के साथ आप ना सिर्फ अपने काम के लिए, अपनों के लिए भी समय निकाल सकती हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story