Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चाहती हैं पार्टनर के साथ इमोशनल बॉन्डिंग तो अपनाएं ये तरीके

आपने भी देखा होगा कि कई बार कपल 50 की उम्र पार कर देते हैं, लेकिन फिर भी दोनों के बीच प्यार में कोई कमी नहीं आती है। इसके पीछे का कारण दोनों का स्ट्रांग इमोशनल बॉन्ड होता है। इसी बीच आज हम आपको इमोशन बॉन्ड स्ट्रांग करने के लिए कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं। जिससे आप अपने रिश्ते को मजबूत बना सकते हैं।

चाहती हैं पार्टनर के साथ इमोशनल बॉन्डिंग तो अपनाएं ये तरीके
X
ऐसे करे पार्टनर के साथ इमोशनल बॉन्ड स्ट्रॉंन्ग (फाइल फोटो)

जब बात शादीशुदा जिंदगी की आती है तो दोनों के बीच केवन फिजिकल इंटिमेसी की ही बात आती है। अक्सर देखा जाता है कि दोनों के बीच इमोशनल बॉन्डिंग की कोई बात नहीं होती है। जब कि शादीशुदा जिंदगी को सफल बनाने के लिए इमोशनल बॉन्ड का भी बहुत महत्वपूर्ण रोल होता है। जब शादीशुदा जिंदगी में फिजिकल इंटिमेसी कम होने लगती है तो इमोशन इंटिमेसी या इमोशल बॉन्ड ही दोनों के रिश्ते को मजबूत बनाने का काम करता है।

वहीं आपने भी देखा होगा कि कई बार कपल 50 की उम्र पार कर देते हैं, लेकिन फिर भी दोनों के बीच प्यार में कोई कमी नहीं आती है। इसके पीछे का कारण दोनों का स्ट्रांग इमोशनल बॉन्ड होता है। इसी बीच आज हम आपको इमोशन बॉन्ड स्ट्रांग करने के लिए कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं। जिससे आप अपने रिश्ते को मजबूत बना सकते हैं।

एक दूसरे की बात सुनें

इसके लिए आप सामने वाले की बात सुने और उन्हें समझने की कोशिश करें। ऐसा करने ससे आप दोनों एक दूसरे से इमोशनल कनेक्ट होंगे।

स्पोर्टिव बनें

हमेशा अपने पार्टनर के लिए स्पोर्टिव रहें। अपने पार्टनर को इस बात का हमेशा एहसास दिलाएं कि आप अपने पार्टनर के लक्ष्य को पूरा करने के लिए हमेशा उनके साथ हैं। आप हमेशा उनके साथ मजबूती से खड़ी हैं। जब आप अपने पार्टनर को इस बाता का एहसास दिला देती हैं तो आपके रिश्ते में इमोशनल बॉन्ड स्ट्रांग होता है।

Also Read: अगर आप भी बच्चों के ज्यादा फोन यूज करने से परेशान हैं तो मोबाइल दूर करने के लिए अपनाएं ये तरीके

उन्हें समझें

जरूरी नहीं है कि जिस हिसाब से सोच रहे हो वो ही ठीक हो। अपने पार्टनर को भी समझें। लड़ाई में उन बातों को न दोहराए जिससे आपका पार्टनर कोई और मतलब निकाल ले और उसका दिल दुखे।

Next Story